Dussehra 2022: इस बार दशहरा पर कौन से दुर्लभ शुभ संयोग बन रहे हैं, जानिए ग्रहों के शुभ गोचर

पुनः संशोधित शुक्रवार, 30 सितम्बर 2022 (13:26 IST)
हमें फॉलो करें
: 5 अक्टूबर 2022 बुधवार को दशहरे का पर्व मनाया जाएगा। आश्‍विन माह के शुक्ल पक्ष की दशमी को दशहरा का पर्व मनाया जाता है, जिसे विजयादशमी भी कहते हैं। इस दिन दीपावली की खरीददारी भी की जाती है, शस्त्र पूजन भी करते हैं और शमी के वृक्ष की पूजा भी करते करते हैं। आओ जानते है आओ जानते हैं कि इस दिन के क्या है सबसे अच्‍छे मुहूर्त।

दशहरा पर श्रवण नक्षत्र का शुभ संयोग- श्रवण नक्षत्र प्रारम्भ- 04 अक्टूबर 2022 को रात्रि 10:51 पर प्रारंभ होगा जो अगले दिन 5 अक्टूबर 2022 को रात्रि 09:15 पर समाप्त होगा।

अबूझ मुहूर्त : वैसे तो दशहरा के दिन को साढ़े तीन अबूझ मुहूर्त में से एक माना जाता है इसलिए पूरा दिन ही शुभ होता है।

दशहरे के शुभ दुर्लभ योग :-
- रवि योग : सुबह 06:30 से रात्रि 09:15 तक।
- सुकर्मा : 4 अक्टूबर सुबह 11:23 से दूसरे दिन 5 अक्टूबर सुबह 08:21 तक।

- धृति : 5 अक्टूबर सुबह 08:21 से दूसरे दिन 6 अक्टूबर सुबह 05:18 तक।

दशहरे के ग्रह गोचर -

- इस दिन लग्न में सूर्य, बुध और शुक्र ग्रह की कन्या राशि में युति बन रही है।
- बृहस्पति ग्रह मीन राशि में स्वराशि का होकर बैठा है।

- शनि मकर राशि में स्वराशि का होकर बैठा है।

- मेष राशि में राहु और तुला राशि में केतु का गोचर चल रहा है।

- मंगल वृषभ में और चंद्र मकर में विराजमान रहेंगे।



और भी पढ़ें :