रूस में कोरोनावायरस से फिर त्राहिमाम, 7 दिनों में 5वीं बार दैनिक मामलों में रिकॉर्ड बढ़ोतरी

पुनः संशोधित बुधवार, 3 नवंबर 2021 (19:47 IST)
हमें फॉलो करें
मॉस्को। में के मामले और मौत का आंकड़ा बुधवार को सर्वाधिक स्तर पर रहा, वहीं देश के कई क्षेत्रों ने वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए पाबंदियों की मियाद बढ़ाने की घोषणा की।

रूस के राज्य कोरोनावायरस कार्यबल ने कहा कि 1 दिन पहले संक्रमण के 40,000 से अधिक मामलों की पुष्टि हुई है जो महामारी के शुरुआत के बाद से सबसे ज्यादा है। 7 दिनों में 5वीं बार है जब दैनिक मामलों ने नया रिकॉर्ड बनाया है। कार्यबल ने यह भी बताया कि संक्रमण के कारण 1,189 लोगों की मौत हुई है और यह भी नया रिकॉर्ड है।

रूस में 5 दिन का लागू है जो सरकार ने कोविड के प्रसार को रोकने के लिए लगाया गया है। पिछले महीने ने आदेश दिया था कि अधिकतर कर्मचारी 30 अक्टूबर से 7 नवंबर के बीच काम पर न आएं। उन्होंने क्षेत्रीय सरकारों को जरूरत पड़ने पर इस अवधि में बढ़ोतरी करने के अधिकार दे दिए थे।
राजधानी मॉस्को से करीब 500 किलोमीटर दूर स्थित नोवगोर्ड क्षेत्र के अधिकारियों ने सोमवार को कहा था कि कार्यस्थलों को बंद रखने की मियाद एक और हफ्ते लागू रहेगी। साइबेरिया के टॉम्स्क क्षेत्र और यूराल पर्वत के चेल्याबिंस्क क्षेत्र के अधिकारियों ने बुधवार को पाबंदियों को एक हफ्ते के लिए बढ़ा दिया है।

टॉम्स्क के गवर्नर सर्गेई ज़्वाचकिन ने कहा कि संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने के लिए एक हफ्ते के लिए कार्यबंदी करना काफी नहीं है। कम से कम 3 अन्य क्षेत्रों के गवर्नर ने कहा है कि वे कार्यबंदी की अवधि बढ़ाने पर विचार कर रहे हैं।
उधर क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने बुधवार को कहा कि राष्ट्रव्यापी स्तर पर कार्यबंदी की अवधि में विस्तार करने का अभी कोई फैसला नहीं किया गया है और जब ऐसा निर्णय लिया जाएगा तो जानकारी दी जाएगी।

रूस में टीकाकरण की दर कम रहने, संक्रमण से बचाव को लेकर लोगों के उदासीन रवैए तथा सख्त पाबंदियां लगाने के सरकार की अनिच्छा के बीच वायरस के पीड़ितों की संख्या बढ़ी है।
रूस की 35 प्रतिशत से भी कम आबादी का पूर्ण टीकाककरण हुआ है जबकि रूस ने देश में विकसित कोविड रोधी टीके को अन्य देशों की तुलना में काफी पहले ही मंजूरी दे दी थी। बहरहाल, रूस में संक्रमण के कुल मामले 86 लाख के पार पहुंच गए हैं जबकि मृतक संख्या 2.42 लाख है।



और भी पढ़ें :