देश के कुछ राज्यों के कई जिलों में बढ़ने लगे Corona केस, फिर से बढ़ रही चिंता, सरकार ने चेताया

Last Updated: मंगलवार, 27 जुलाई 2021 (19:24 IST)
मुख्य बिंदु
  • के दैनिक मामलों में कमी की दर हुई धीमी
  • केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी
  • 54 जिलों में संक्रमण दर 10 प्रतिशत से अधिक
नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि पिछले कुछ सप्ताहों में कोविड-19 के औसत दैनिक मामलों में कमी आने की दर धीमी हुई है, जो चिंता का कारण है। इसने यह भी कहा कि 12 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में 54 जिले ऐसे हैं, जहां 26 जुलाई को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान कोरोनावायरस संक्रमण दर 10 प्रतिशत से अधिक रही।
स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि 5 से 11 मई के बीच औसत तौर पर दैनिक मामलों की संख्या 3,87,029 थी जो 21 से 27 जुलाई के बीच घटकर 38,090 तक हो गई है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ सप्ताहों में कोविड-19 के औसत दैनिक मामलों में कमी आने की दर धीमी हुई है जो चिंता का कारण है।

अग्रवाल ने कहा कि पिछले चार सप्ताहों से सात राज्यों के 22 जिलों में कोरोनावायरस संक्रमण के दैनिक मामलों में वृद्धि की खबरें मिल रही हैं और यह भी चिंता वाली बात है। उन्होंने कहा कि आठ जिले ऐसे हैं जहां संक्रमण दर में कमी देखने को मिल रही थी, लेकिन अब इन जिलों में महामारी के मामलों में वृद्धि हो रही है और हम स्थिति को हल्के में नहीं ले सकते।

सरकार ने कहा कि सशस्त्र बल मेडिकल कॉलेज के एक अध्ययन (15 लाख डॉक्टरों और अग्रिम पंक्ति के कर्मियों से संबंधित) में पाया गया है कि कोविशील्ड टीका संक्रमण के खिलाफ 93 प्रतिशत सुरक्षा उपलब्ध कराता है और इससे मृत्यु दर में 98 प्रतिशत कमी देखने को मिली। भारत में 132 दिन बाद कोविड-19 के 30 हजार से कम नए मामले सामने आए। वहीं, 124 दिन बाद उपचाराधीन मरीजों की संख्या चार लाख से कम है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार सुबह आठ बजे जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, एक दिन में कोविड-19 के 29,689 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,14,40,951 हो गई। उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी कम होकर 3,98,100 रह गई है, जो कुल मामलों का 1.27 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 13,089 कमी आई है। मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 97.39 प्रतिशत है।(भाषा)



और भी पढ़ें :