चीन से बड़ी खबर, नए वायरस ‘हंता’ से एक की मौत

hanta virus
Last Updated: मंगलवार, 24 मार्च 2020 (16:24 IST)
चीन में अब हंता (hantavirus) नाम के एक नए वायरस से खबरों में है। इस वायरस से एक व्‍यक्‍ति की मौत का मामला सामने आया है। इस नए वायरस से सोशल मीडिया पर हड़कंप मचा हुआ है।
कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद इस नए वायरस के बारे में सुनकर हर कोई दहशत में है।

बताया जा रहा है कि काम करने के लिए चीन के शाडोंग प्रांत जा रहे युवक को एक बस में मृत पाया गया। ग्‍लोबल टाइम्‍स ने इस घटना की जानकारी दी है। जांच में मृत व्‍यक्‍ति से पॉजिटिव पाया गया था। इस खबर के बाद बस में सवार 32 अन्‍य लोगों की भी जांच की जा रही है।

चीन के सरकारी समाचार पत्र ग्‍लोबल टाइम्‍स के इस घटना की जानकारी देने के बाद सोशल मीडिया पर बवाल मच गया है।

सोशल मीडिया पर लोग कह रहे हैं कि अगर चीन के लोग जानवरों को जिंदा खाना बंद नहीं करेंगे तो यह होता रहेगा।

विशेषज्ञों का मानना है कि कोरोना वायरस की तरह से हंता वायरस घातक नहीं है। कोरोना की तरह यह हवा के रास्‍ते नहीं फैलता है। यह चूहे या गिलहरी के संपर्क में इंसान के आने से फैलता है। सेंटर फॉर डिजिज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के मुताबिक, 'चूहों के घर के अंदर और बाहर करने से हंता वायरस के संक्रमण का खतरा रहता है। यहां तक कि अगर कोई स्‍वस्‍थ व्‍यक्ति भी है और वह हंता वायरस के संपर्क में आता है तो उसके संक्रमित होने का खतरा रहता है।'

विशेषज्ञ कहते हैं कि हंता वायरस एक व्‍यक्ति से दूसरे व्‍यक्ति में नहीं जाता है, लेकिन कोई व्‍यक्ति चूहों के मल, पेशाब आदि को छूने के बाद अपनी आंख, नाक और मुंह को छूता है तो उसके हंता वायरस से संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है। इस वायरस से संक्रमित होने पर इंसान को बुखार, सिर दर्द, शरीर में दर्द, पेट में दर्द, उल्‍टी, डायरिया आदि हो जाता है। इससे मरने वालों का आंकड़ा 38 प्रतिशत है।


और भी पढ़ें :