Corona virus का पड़ा नकारात्मक प्रभाव, फिच ने घटाया भारत की आर्थिक वृद्धि का अनुमान

Last Updated: शुक्रवार, 20 मार्च 2020 (11:40 IST)
नई दिल्ली। रेटिंग्स ने शुक्रवार को वित्त वर्ष 2020-21 के लिए की आर्थिक वृद्धि दर के को घटाकर 5.1 प्रतिशत कर दिया है। रेटिंग एजेंसी का कहना है कि के प्रकोप से निवेश और निर्यात प्रभावित होगा।
ALSO READ:
कोरोना वायरस से भारत की आर्थिक परेशानियाँ कितनी बढ़ीं?
इससे पहले फिच ने दिसंबर 2019 में अनुमान जताया था कि 2020-21 के लिए भारत की विकास दर 5.6 प्रतिशत और अगले वर्ष 6.5 प्रतिशत रहेगी।
ALSO READ:
: घट सकती है आर्थिक वृद्धि की रफ्तार, दबाव का कर रही सामना
फिच ने अपने वैश्विक आर्थिक परिदृश्य 2020 में कहा कि आने वाले सप्ताहों में कोरोना वायरस से प्रभावित लोगों की संख्या बढ़ती रहेगी लेकिन इसके बहुत अधिक तेजी से फैलाव को रोकने में कामयाबी मिलेगी। इसके बावजूद आर्थिक परिदृश्य नकारात्मक है। फिच ने कहा कि आपूर्ति पक्ष से व्यवधानों के चलते व्यावसायिक निवेश और निर्यात पर असर पड़ने की आशंका है।


और भी पढ़ें :