'तांडव' में अपने किरदार के लिए सैफ अली खान को सीखनी पड़ी संस्कृत

Last Updated: बुधवार, 13 जनवरी 2021 (18:28 IST)
बॉलीवुड एक्टर जल्द ही में नजर आने वाले हैं। सीरीज का ट्रेलर रिलीज हो चुका है और अब सभी को सीरीज का इंतजार है। यह सीरीज 15 जनवरी को अमेजन प्राइम पर रिलीज होने जा रही है। अली अब्बास जफर द्वारा निर्मित तांडव में सैफ कई पहलूओं वाले और पहले कभी न देखे गए अवतार में नजर आएंगे।
सैफ ने तांडव के किरदार के लिए बहुत मेहनत की है। हाल ही में, सैफ ने इस शो में अपने किरदार से जुड़े कम ज्ञात तथ्यों के बारे में बताया और यह भी कि एक दिलचस्प परफॉर्मेंस देने में उन्होंने किन चुनौतियों का सामना किया। उन्होंने शो के बारे में खास बातचीत की।
सैफ अली खान ने कहा, अपने किरदार की तैयारी करते हुए मैं कई चीजों से प्रभावित हुआ। मैं एक राजनेता का किरदार निभा रहा हूं, जो सार्वजनिक जगहों पर बहुत बोलता है और मुझे समर के किरदार के लिए संस्कृतनिष्ठ हिन्दी के कई भाषणों की तैयारी करनी पड़ी। मजे की बात यह थी कि मुझे बोलना सचमुच अच्छा लगा। शूटिंग का कोई दिन बहुत भारी लगता था और कोई हल्का। इस शो में मुझे हर दिन संस्कृत में लगभग चार भाषण देने होते थे। तो इस रोल को परफेक्ट बनाने के लिए मैंने कई भारी भरकम लाइनें सीखीं।
इस शो में ग्रे शेड वाला किरदार निभाने के बारे में सैफ ने कहा, मैंने इससे पहले भी ग्रे शेड वाले बहुत किरदार किए हैं और ऐसा करने में मुझे बहुत मजा आया है। बिलकुल शरीफ आदमी का किरदार निभाने की तुलना में मुझे यह ज्यादा रोचक और प्रयोगात्मक लगता है।

उन्होंने कहा, मुझे खुशी है कि मैं समर का किरदार अदा कर पाया, जो असुरक्षित, भयंकर, सत्तावादी और दयालु है। यह अपनी एनर्जी के एक अलग हिस्से की चैनलिंग करने जैसा था। इसके अलावा, मुझे नहीं लगता है कि एक राजनेता का किरदार निभाने में कोई जोखिम है। तांडव कोई डॉक्युमेंट्री नहीं है, यह एक फिक्शन है।
तांडव में सैफ अली खान के साथ सुनील ग्रोवर, डीनो मोरिया, मोहम्मद जीशान अय्यूब, कुमुद मिश्रा, अनूप सोनी, कृतिका कामरा, संध्या मृदुल और सारा जेन डियास भी हैं। इसका निर्देशन अली अब्बास जफर ने किया है और गौरव सोलंकी ने इसे लिखा है।




और भी पढ़ें :