रिलायंस एंटरटेनमेंट के साथ मिलकर शैलेंद्र सिंह ने की 2 बायोपिक की घोषणा, एक में नजर आ सकते हैं अजय देवगन

पुनः संशोधित बुधवार, 15 जनवरी 2020 (12:06 IST)
हिंदी सिनेमा में इन दिनों कई बन रही है। हाल ही में भारतीय महिला टीम की पूर्व कप्तान झूलन गोस्वामी की बायोपिक की खबर सामने आई है। अब इस लिस्ट में दो नाम और जुड़ने जा रहे हैं।

इसमें एक बायोपिक फिल्म एक खालिस्तानी आतंकियों के बम धमाकों का निडरता सामना करने वाले पूर्व कांग्रेसी नेता और समाजसेवी एमएस बिट्टा की है, तो दूसरी इंटरनेशनल स्तर पर डांस में भारत का परचम लहराने वाले नालासोपारा के डांस ग्रुप किंग्स यूनाइटेड की है।
इन दोनों बायोपिक की घोषणा के साथ मिलकर निर्माता शैलेंद्र सिंह और प्रिया गुप्ता ने की है। इन बायोपिक के ऐलान के वक्त मनिंदर सिंह बिट्टा और किंग्स यूनाइटेड के संस्थापक सुरेश मुकुंद भी मौजूद थे।

मनिंदर सिंह बिट्टा अक्सर आतंकवादी विरोधी अभियान चलाने के लिए सुर्खियों में रहते हैं और उन पर कई बार जानलेवा हमले भी हुए हैं। इंदिरा गांधी की हत्या के साल भर पहले स्वर्ण मंदिर में तिरंगा फहराने का ऐलान कर चर्चा में आए बिट्टा पर बायोपिक बनाने के राइट्स निर्माता शैलेंद्र सिंह ने खरीदे हैं।
मनिंदरजीत सिंह बिट्टा से जब पूछा गया कि उनके मुताबिक, कौन सा एक्टर उनके किरदार को पर्दे पर उतार सकता है, तो उन्होंने कहा, 'यह फैसला तो प्रोड्यूसर्स ही करेंगे, लेकिन जहां तक मेरी बात है, शहीद-ए-आजम भगत सिंह पर बहुत सी फिल्में बनी, लेकिन आज भी जब मैं को देखता हूं, तो मुझे उनमें भगत सिंह नजर आते हैं। मैं नहीं कहता कि मेरी बायॉपिक में उन्हें लें, लेकिन उनकी गंभीरता कमाल की थी। मेरी फिल्म में भी में जज्बात होंगे, रोना होगा, राष्ट्र होगा, वंदे मातरम होगा, हंसी नहीं होगी।
ग्लोबल डांस चैंपियन बनी किंग्स यूनाइटेड टीम के सुरेश मुकुंद के सफर को भी पर्दे पर उतारा जाना है। इस बारे में सुरेश मुकुंद कहते हैं, 'हम तीन बार इंटरनेशनल कॉम्पिटिशन में जा चुके हैं। पहली बार फाइनलिस्ट थे, दूसरी बार ब्रॉन्ज जीता, जबकि पिछले साल हम विनर बने।
एबीसीडी 2 हमारे पहली बार के कॉम्पिटिशन से प्रेरित है कि कैसे हमने एक इंटरनेशनल टीम, जिससे हम खुद इंस्पायर्ड थे, उनको हराया। यह उस सिचुएशन पर है। जबकि, यह बायोपिक इस बारें में है कि हर बार इंटरनेशनल प्रतियोगिता के लिए हमें कितनी मेहनत करनी पड़ी, कैसे टीम बनी, टूटी, फिर हमने नई टीम बनाई और जीते। हमारी आर्थिक स्थिति और दिक्कतें क्या रहीं। यह फिल्म सिर्फ सुरेश मुकुंद की नहीं है, हमारी पूरी टीम किंग्स यूनाइटेड और इसके 14 मेंबर्स की कहानी है।



और भी पढ़ें :