6 ग्रहों की वक्री चाल, बेहद दुर्लभ संयोग,आपकी राशि का क्‍या होगा हाल


मई का महीना ज्‍योतिष के लिहाज से बहुत ही खास माना जा रहा है। इस महीने चार दिन के अंतराल में 3 बड़े ग्रह वक्री हो गए हैं। 11 मई को शनिदेव ने अपनी ही राशि मकर में उल्‍टी चाल से चलना शुरू किया है तो 13 मई को ऐश्‍वर्यप्रदाता शुक्र अपनी राशि वृष में वक्री हो गए।

वहीं 14 मई को बृहस्‍पति ग्रह ने भी शनि की राशि मकर में वक्री चाल से चलना शुरू कर दिया है, इस परिवर्तन के बाद कुल 9 ग्रहों में से 6 ग्रह वक्री अवस्‍था में रहेंगे। ज्‍योतिष की दृष्टि से एक साथ 6 ग्रहों का वक्री चाल से चलना बहुत ही दुर्लभ माना जा रहा है।
जानिए कौन से 6 ग्रह हो रहे हैं वक्री
ज्‍योतिष के अनुसार, 3 बड़े ग्रह शनि, के वक्री होने के बाद बुध भी वक्री होने वाले हैं। राहु और केतु सदैव वक्री चाल में ही रहते हैं। इस तरह एक साथ 6 ग्रह वक्री चाल से चलेंगे, जो कि अपने आप में बेहद दुर्लभ संयोग है।

आइए जानते हैं आपकी राशि पर क्‍या असर होने वाला है…
मेष
ग्रहों की वक्री चाल इस राशि की उग्रता को कुछ कम कर सकती है। इससे समाज में आपकी छवि भी सुधरेगी। अब आप अपनी चीजों के बारे में और भविष्‍य के बारे में पहले से अधिक ध्यान देकर सोच पाएंगे। नौकरी में चल रहा तनाव कुछ कम हो सकता है।
वृष
आपकी राशि के लोग अपने करिश्‍माई व्‍यक्तित्‍व के लिए सबसे ज्‍यादा जाने जाते हैं। यह हो सकता है कि तमाम मेहनत और अथक प्रयास के बाद भी आपको सफलता न मिले, लेकिन थोड़े से धैर्य से आप चीजों को अपने अनुकूल कर लेंगे। अगर आपने कोई फैसला लेने में जल्‍दी की तो बात बिगड़ सकती है। इस वक्‍त आप कुछ नया आजमाने से बचें। आपको कुछ अच्‍छे परिणाम प्राप्‍त होंगे।
मिथुन
ग्रहों के वक्री होने से आपके लिए यह समय अवसरपूर्ण साबित हो सकता है। नौकरी के नए अवसर मिल सकते हैं और व्‍यापारियों के लिए भी नए सौदों की पेशकश हो सकती है। इस वक्‍त जो लोग सरकारी मुकदमों में फंसे हैं, उन्‍हें लाभ हो सकता है। आय के नए स्रोत मिल सकते हैं, भगवान विष्‍णु की पूजा से लाभ होगा।
कर्क
आपके अंदर आत्‍मविश्‍वास की कमी हो सकती है। आय के स्रोत बने रहेंगे, लेकिन इस बीच आपके खर्च बढ़ सकते हैं। बाधाएं आ सकती हैं और सहयोगियों का साथ भी छूट सकता है। कार्यस्‍थल पर भी विवाद हो सकता है। हालांकि परिवार से सहयोग मिलता रहेगा, तो आप इन कठिन परिस्थितियों से आसानी से बाहर निकल आएंगे। विष्‍णुजी के सामने घी का दीपक जलाते रहें।
सिंह
सिंह राशि वालों के लिए ग्रहों का वक्री होना शुभ माना जा रहा है। खुद के अंदर बदलाव लाने का यह अच्‍छा समय है। आपको अपने बारे में सोचकर कुछ जरूरी कदम उठाने पड़ सकते हैं। आपको अपनी सामान्‍य दिनचर्या बदलकर कुछ नया करने के बारे में सोचना चाहिए। आप सदैव दूसरों के सहयोग के लिए तैयार रहते हैं। हालांकि अब यह समय है कि आपको अपनी संतुष्टि के लिए कुछ करना चाहिए। इस वक्‍त आपके मन में असमंजस वाली स्थिति हो सकती है, लेकिन आप जल्‍द ही बाहर भी निकल आएंगे।
कन्‍या
ग्रहों के वक्री होने का आपके ऊपर कुछ ऐसा प्रभाव होगा कि आप कुछ नया करने के चक्‍कर में जोखिम उठाने से भी पीछे नहीं रहेंगे। जोखिम उठाना आपके ब्‍लड में है। इस तरह से आपको कुछ नए अनुभव प्राप्‍त होंगे और आपको कुछ नया करने का इस वक्‍त अच्‍छा परिणाम मिलेगा।
तुला
तुला राशि के लोगों पर ग्रहों के वक्री होने का बहुत खास प्रभाव नहीं पड़ता। ये सदैव आगे बढ़कर जीत हासिल करने वालों में से एक हैं। आप सदैव आगे आकर कुछ पाने के बारे में सोचते हैं। हालांकि आपके परिवार में इस समय कुछ मुद्दे हो सकते हैं तो आपको परेशान करें। आपको इस वक्‍त तनाव परेशान कर सकता है। हालांकि चीजें जल्‍द ही बदलकर आपके हित में हो जाएंगी।
वृश्चिक
इस वक्‍त आपके पास ग्रहों के वक्री होने से कई मौके आ सकते हैं। स्‍थानीय और अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर के लोगों से संबंध स्‍थापित कर पाएंगे। इस वक्‍त आपके काम और रचनात्‍मकता की तारीफ पूरी दुनिया करेगी। हालांकि आगे चलकर आपको कुछ चीजों में जोखिम उठाना पड़ सकता है। लेकिन सभी मुश्किलों के बावजूद एक चैंपियन की तरह जीत हासिल करके सबके सामने आएंगे।
धनु
धनु राशि के लोग सबसे ज्‍यादा खुले विचारों वाले होते हैं। ये अपनी मर्जी के मालिक होते हैं। इन्‍हें वही करना अच्‍छा लगता है जो इन्‍हें पसंद होता है। इन लोगों को दूसरों को अपनी आकर्षित करना अच्‍छे से आता है। ग्रहों के वक्री होने से आपको अपनी इमेज फिर से सुधारने की जरूरत पड़ सकती है। आपके लिए यह थोड़ा सा कठिन समय हो सकता है क्‍योंकि आपको इस वक्‍त अपनी प्रफेशनल और पर्सनल दोनों लाइफ में थोड़ा सा संघर्ष करना पड़ सकता है।
मकर
गुरु आपकी ही राशि में वक्री हो रहे हैं। इसी वक्‍त आपके राशि स्‍वामी शनि भी आपकी राशि में हैं। परिणाम के तौर पर आपको गुरु के वक्री होने के कुछ विशेष परिणाम प्राप्‍त हो सकते हैं। कुछ चिंताओं के बावजूद आप इस वक्री अवस्‍था को बड़े आराम से निकाल ले जाएंगे। लेकिन आपको कुछ मामलों में अडजस्‍टमेंट करना पड़ सकता है। आपकी पर्सनल लाइफ में भी चीजों में बदलाव आएगा और आपके जीवन में कुछ लोगों की अहमियत बढ़ जाएगी। इस वक्‍त आपकी प्रगति के आडे़ कोई नहीं आ सकता है।
कुंभ
कुंभ राशि वालों के लिए ग्रहों की यह वक्री चाल बहुत ही शुभ परिणाम देने वाली साबित हो सकती है। आपके मन में अध्‍यात्‍म के प्रति झुकाव बढ़ सकता है। इसके अलावा आपके अंदर कुछ भावनात्‍मक बदलाव भी आ सकते हैं। प्रेम संबंधों के मामले में आपकी राशि वालों को इसका लाभ मिल सकता है। आप खुद को इस वक्‍त सही स्‍थान पर रखते हुए सही फैसले लेंगे। आप भीड़ से अलग अपनी पहचान बनाने में यकीन रखते हैं।
मीन
आपकी प्रोफेशनल लाइफ पर खासा प्रभाव नहीं पड़ेगा। लेकिन आपकी पर्सनल लाइफ में देखा जाए तो आपके दोस्‍तों से आपका मनमुटाव हो सकता है। हालांकि ये ही लोग मामले को सुलझाएंगे भी। सच्‍चाई यह है कि आप सबको एक साथ खुश नहीं रख सकते। ग्रहों के वक्री होने से आपके जीवन में थोडे़ बहुत उतार-चढ़ाव जरूर आएंगे।



और भी पढ़ें :