मन चंगा तो कठौती में गंगा

खरगोन | Naidunia| पुनः संशोधित बुधवार, 8 फ़रवरी 2012 (15:17 IST)
संत शिरोमणि रविदास जयंती पर मंगलवार को शहर में भव्य जुलूस निकला। विभिन्ना मार्गों से निकले जुलूस में बड़ी संख्या में समाजजनों ने भाग लिया। इस दौरान 'मन चंगा तो कठौती में गंगा' जैसे संदेश दिए गए। शोभायात्रा पश्चात समाजजनों का सम्मान किया गया। रात्रि में भजन संध्या हुई।


संत रविदास निमाड़ कोयला (मोची समाज) संगठन के तत्वावधान में रविदास जन्मोत्सव के तहत विभिन्ना कार्यक्रम आयोजित किए गए। मंगलवार सुबह किला मैदान परिसर में पूजा-अर्चना के बाद जुलूस निकला। सबसे आगे बग्घी पर संत रविदास का विशाल चित्र विराजित था। इसके पीछे ट्रैक्टर-ट्रॉली पर सुसज्जित झाँकी में संत रविदास का चित्र शोभायमान था। समाज के महिला-पुरुषों ने बड़ी संख्या में भाग लेकर संत के प्रति अपनी आस्था प्रस्तुत की। लाउड स्पीकर पर गीतों व भजनों ने माहौल को धर्ममय बना दिया। शोभायात्रा सराफा बाजार, पोस्ट ऑफिस चौराहा, श्रीकृष्ण टॉकीज तिराहा, टीआईटी काम्प्लेक्स, बस स्टैंड क्षेत्र, बिस्टान रोड तिराहा, महात्मा गाँधी मार्ग होते हुए पुनः किला मैदान परिसर पहुँची। मार्ग में भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा की नगर इकाई के मंच से जिला सहकारी केंद्रीय बैंक अध्यक्ष प्रकाश रत्नपारखी, नगर अध्यक्ष गिरीश सांवले, मोर्चा जिला महामंत्री राजेश सागौरे, भाजयुमो जिलाध्यक्ष लक्ष्मण इंगले, मुकेश रोकड़े, नारायण वर्मा आदि ने स्वागत किया।

सम्मान समारोह

दोपहर में विचार गोष्ठी के साथ सम्मान समारोह रखा। इस मौके पर वर्तमान में पीएससी में चयनित विजय तलवारे सहित समाज के बुजुर्ग बुदिया तावड़े व पूर्व संगठन अध्यक्ष बाबूलाल जोगे का सम्मान किया गया। अध्यक्षता संगठन सुरेश कोठे ने की।-निप्र



और भी पढ़ें :