जाम से छुटकारा दिलाने के लिए कवायद

खंडवा | Naidunia| पुनः संशोधित शुक्रवार, 2 मार्च 2012 (00:42 IST)
महाशिवरात्रि पर कोठी-ओंकारेश्वर के बीच लगे 8 घंटे के जाम को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर कवींद्र कियावत ने इस समस्या का निदान ढूँढने के लिए तीन सदस्यीय समिति गठित की थी। समिति ने बुधवार को ओंकारेश्वर से कोठी तक के मार्ग का निरीक्षण कर श्री कियावत को रिपोर्ट सौंप दी।


रिपोर्ट में बताया गया कि गणेशनगर से अस्थायी बस स्टैंड तक की खुली कृषि भूमि में पार्किंग व नहर के पास अस्थाई मार्ग में सुधार कर चालू किया जाना चाहिए। इसे एकांगी मार्ग (वनवे) बनाकर तैयार करना आवश्यक है। एकांगी मार्ग वन विभाग की भूमि व ओंकारेश्वर परियोजना की नहर से रहेगा। अगर अधिक भीड़ आती है तो कोठी से सनावद एवं मोरटक्का से कोठी मार्ग को भी एकांगी मार्ग बनाया जा सकता है। समिति के सदस्य नगर पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी धीरेंद्र सिकरवार ने बताया कि समिति में मांधाता तहसीलदार मुकेश सोनी, थाना प्रभारी शिवसिंह यादव, नगर पंचायत सीएमओ धीरेंद्रसिंह सिकरवार थे। समिति ने कोठी से ओंकारेश्वर तक के मार्ग को एकांकी मार्ग बनाने का सुझाव तो दिया है, लेकिन इस चार किमी मार्ग की हालत इतनी खराब है कि इससे यातायात को सुचारू रूप से नहीं निकाला जा सकता। इसे जल्दी ही बनाना होगा, क्योंकि भूतड़ी अमावस्या को ज्यादा दिन नहीं बचे। और इस पर्व के दिन भी लाखों श्रद्धालु आएँगे। -निप्र



और भी पढ़ें :