लक्षचंडी एवं एकादशातिरूद्र महायज्ञ 19 जनवरी से

इंदौर | Naidunia| पुनः संशोधित गुरुवार, 12 जनवरी 2012 (12:59 IST)
इंदौर -देवास बायपास स्थित ग्राम अरण्डिया में 19 जनवरी से 24 फरवरी तक लक्षचण्डी एवं एकादशातिरूद्र महायज्ञ का आयोजन स्वामी प्रखरजी महाराज के सान्निध्य में होगा। महायज्ञ के साथ ही भागवत कथा, रामकथा,एवं कृष्णलीला भी होगी। आयोजन समिति के महासचिव अशोक जोशी, राधेश्याम शर्मा सज्जनसिंह कुशवाह एवं सेवा धाम के सुधीरभाई ने पत्रकार वार्ता में बताया कि शंकराचार्य स्वामी निरंजन देव तीर्थ के शिष्य एवं स्वामी करपात्रीजी महाराज के सान्निध्य में लोक कल्याण के विविध संकल्पों के साथ देश में अनेको महायज्ञ सम्पन्न कर चुके महामंडलेश्वर स्वामी प्रखरजी महाराज को भ्रष्टाचार मुक्त आदर्श राष्ट्र बनाने का सपना आया। स्वामी जी ने 2016 तक कानपुर,इंदौर ,दिल्ली एवं बनारस में चार लक्षचंडी महायज्ञों को सम्पन्न कराने का संकल्प लिया ताकि इन महायज्ञों के माध्यम से देश में एक ऐसी आध्यात्मिक उर्जा उत्पन्न की जा सके जिसके प्रभाव से भ्रष्टाचार से जुडे लोगों का मन बदले जा सके। इसी श्रृंखला के तहत फरवरी 2011 में कानपुर में पहला यज्ञ हुआ। के साथ ही श्रीरामकथा, संत सम्मेलन एवं कृष्णलीला जैसे आयोजन भी होंगे। आयोजन स्थल पर कैलाश पर्वत का निर्माण भी किया जा रहा है जिसमें स्पटिमणि से निर्मित शिवलिंग की स्थापना होगी।




और भी पढ़ें :