बाबा का मनोहारी श्रृंगार

बड़वानी | Naidunia| पुनः संशोधित शनिवार, 7 अप्रैल 2012 (00:45 IST)
नगर के स्थित संकट मोचन हनुमान मंदिर में प्रातः हवन व जन्म आरती हुई। हनुमानजी का विशेष श्रृंगार कर चोला एवं ध्वज बदला गया। पश्चात प्रसादी वितरित की गई। मंदिर में आकर्षक रोशनी की गई थी। शाम को भंडारा हुआ। रानीपुरा स्थित हनुमान मंदिर में भी सुबह से ही श्रद्धालुओं की आवाजाही शुरू हो गई थी। यहाँ भी विशेष श्रृंगार किया गया व प्रसादी वितरित की। भीलखेड़ा रोड़ स्थित रोकड़े हनुमान मंदिर में भी बाबा का श्रृंगार कर महाआरती की गई। चोला बदलने की सेवा की गई। काशीवाले बाबा मित्रमंडल द्वारा भंडारा हुआ। इसी प्रकार नाई मोहल्ला, आमलियापानी, कुकरा बसाहट, बोरलाय बसाहट, गुरवापुरा, नवलपुरा सहित अनेक मंदिरों में पुष्प व विद्युत सज्जा की गई थी। नगर के नवलपुरा स्थित मंदिर में बजरंग सेवा समिति द्वारा भंडारा एवं अन्य कार्यक्रम रखे गए। गुरुवार रात साँईं ग्रुप मित्रमंडल नर्मदानगर द्वारा सुंदरकांड रखा गया। इसमें गायक कैलाश चौहान एवं मंडल ने प्रस्तुति दी। प्रातः अभिषेक, विशेष श्रृंगार, पूजन व महाआरती हुई कन्या भोज पश्चात भंडारा दिया गया। आयोजन समिति ने श्रद्घालुओं को बैठने के लिए पांडाल लगाया था।-हमारे प्रतिनिधि



और भी पढ़ें :