PM मोदी के लोकार्पण से पहले पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर उतरे फाइटर प्लेन

Last Updated: सोमवार, 15 नवंबर 2021 (08:08 IST)
हमें फॉलो करें
सुलतानपुर (उत्तर प्रदेश)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 16 नवंबर को सुल्तानपुर से पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण किये जाने से पहले रविवार को इस मार्ग पर सुखोई-मिराज लड़ाकू विमानों का अभ्यास हुआ।

जिला प्रशासन के आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक सुलतानपुर में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की एयर स्ट्रिप पर रविवार दोपहर बाद सी 130 जे हरक्यूलिस विमान उतरा। विमान की तेज गर्जना ने आसपास बसे गांव के लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा। उन्होंने बताया कि 16 नवम्बर को लगभग 30 लड़ाकू विमान भी प्रधानमंत्री के समक्ष अपने करतब को दिखाएंगे।

इन दिनों प्रयोग की वजह से लड़ाकू विमान लोगों के बीच हैरानी का विषय बने हुए हैं। हर दिन लड़ाकू विमान हवाई पट्टी पर उतर रहे हैं। यह प्रयोग 16 नवंबर तक यूं ही चलता रहेगा।
प्रधानमंत्री 16 नवंबर को सुल्तानपुर में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण करेंगे। उस दिन एयर शो भी होना है। उसी का अभ्यास चल रहा है। इसी के तहत वायुसेना के सबसे बड़े ट्रांसपोर्ट प्लेन में शामिल हरक्यूलिस को उतारकर हवाई पट्टी को परखा गया।

सूत्रों ने बताया कि के लोकार्पण के मौके पर मोदी के आने की तैयारियां मुकम्मल हो चुकी हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोकार्पण की तैयारी को लेकर 12 नवंबर को सुलतानपुर आकर समीक्षा की थी।
अधिकारियों के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह हरक्यूलिस विमान से उतरेंगे। यहां उनकी जनसभा के लिए बड़ा पंडाल तैयार किया गया है। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है।

लखनऊ से गाजीपुर को जोड़ने वाला लगभग 341 किलोमीटर लंबा यह एक्सप्रेस-वे उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा एक्सप्रेसवे है। इसका निर्माण करीब 22500 हजार करोड़ रुपए की लागत से किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जुलाई 2018 में इसकी आधारशिला रखी थी।



और भी पढ़ें :