भारी बारिश से बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे पर डेढ़ फुट धंसी सड़क, 5 दिन पहले ही पीएम मोदी ने किया था उद्घाटन

पुनः संशोधित शुक्रवार, 22 जुलाई 2022 (07:36 IST)
हमें फॉलो करें
जालौन। उत्तर प्रदेश के जालौन जिले में बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे पर माधोगढ़ के चिरिया सलेमपुर में भारी के चलते डेढ़ फुट गहरा गड्ढा हो गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 16 जुलाई को ही 296 किलोमीटर लंबे एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन किया था। विपक्षी नेताओं ने सड़क का वीडियो शेयर पर डबल इंजन सरकार पर निशाना साधा।

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन के पांच दिन बाद ही जालौन में एक हिस्सा धंसने पर विपक्षी पार्टियों ने भाजपा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। समाजवादी पार्टी प्रमुख के साथ ही कांग्रेस की उत्तर प्रदेश इकाई ने बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के रिकॉर्ड समय में निर्माण को लेकर तंज कसा है।

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा, 'ये है भाजपा के आधे-अधूरे विकास की गुणवत्ता का नमूना…। उधर, बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का बड़े लोगों ने उद्घाटन किया ही था कि इधर एक हफ़्ते में ही इस पर भ्रष्टाचार के बड़े-बड़े गड्ढे निकल आए। अच्छा हुआ इस पर रनवे नहीं बना।'

समाजवादी पार्टी ने ट्वीट कर कहा, 'उद्घाटन के कुछ ही दिन बाद बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे की सड़क का धंसना ‘डबल इंजन’ भाजपा सरकार के सड़क निर्माण में भ्रष्टाचार को सत्यापित करता है। आधे-अधूरे बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करवा लोगों के जीवन को खतरे में डालने के लिए माफ़ी मांगें मुख्यमंत्री।'
उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा, 'गड्ढा मुक्त उत्तर प्रदेश का वादा करने वालों द्वारा बनाया गया नया एक्सप्रेस-वे ही ‘गड्ढा युक्त’ हो गया है।'

भाजपा सांसद वरूण गांधी ने निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर सवाल उठाया और संबंधित अधिकारियों और कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।
गांधी ने ट्वीट कर कहा कि 15 हजार करोड़ की लागत से बना एक्सप्रेसवे अगर बरसात के 5 दिन भी ना झेल सके तो उसकी गुणवत्ता पर गंभीर प्रश्न खड़े होते हैं। इस परियोजना के मुखिया, संबंधित इंजीनियर और जिम्मेदार कंपनियों को तत्काल तलब कर उनपर कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित करनी होगी।

उत्तर प्रदेश एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीडा) के प्रवक्ता दुर्गेश उपाध्याय ने बताया कि भारी बारिश के कारण बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे पर पानी भर गया था, जिसकी वजह से बुधवार रात करीब डेढ़ फुट सड़क धंस गई। सूचना मिलते ही तुरंत अधिकारियों की टीम वहां पहुंची और इसे दुरूस्त कर दिया गया।



और भी पढ़ें :