मेरठ के सरधना में धमाका, 2 लोगों की मौत, कई घायल

Sardhana Blast
हिमा अग्रवाल| पुनः संशोधित गुरुवार, 29 अक्टूबर 2020 (13:46 IST)
मेरठ। सरधना तहसील के अंतर्गत पीरजादगान कस्बे के एक मकान में जबर्दस्त धमाके से हड़कंप मच गया। माना जा रहा है कि घर में रखे सिलेंडर के फटने से धमाका हुआ। इसके चलते पूरा घर मलबे में तब्दील हो गया। इस हादसे में दो लोगों की मौत हो गई, जबकि करीब दर्जनभर लोग घायल हो गए।

आनन-फानन में घायलों को सरधना सामुदायिक केन्द्र लाया गया, जहां से गंभीर घायलों को प्राथमिक उपचार देकर मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया। पुलिस और प्रशासन के लोगों ने मौके पर पहुंचकर ब्लास्ट के कारणों की जांच शुरू कर दी है।
Sardhana Blast

गुरुवार की सुबह 10 बजे के लगभग आसिम खान की रसोई में रखा सिलेंडर फटने से मकान की छत उड़ गई। धमाका इतना तेज था कि आसपास के घरों तक मलबा पहुंच गया। पुलिस और गांव के सभी लोग मौके पर पहुंच राहत कार्य में जुट गए।

इस हादसे में आकिल खान के परिवार के आसिम की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि कासिम ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। उनके अलावा भी परिवार के छह सदस्य घायल हैं। आसपास के लोगों को भी छुटपुट चोटें आई हैं।
Sardhana Blast
प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि विस्फोट इतना जबरदस्त था कि पूरा गांव हिल गया। घटना के 10 मिनट तक तो आसपास के लोग कुछ समझ नहीं पाए, जब धूल का गुब्बार हटा तो असली वजह समझ में आई। विस्फोट वाले घर के आसपास आधा दर्जन मकानों को भी क्षति पहुंची है।
दूसरी ओर, कुछ लोग दबी जुबान में यह भी कह रहे हैं कि दीपावली का पर्व नजदीक है, जिसके चलते घर के अंदर पटाखे बड़ी मात्रा में बेचने के लिए लाकर रखे थे। पटाखों ने अज्ञात कारणों से आग पकड़ ली और ब्लास्ट हो गया। पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों ने अपनी जांच में भी इस तथ्य को शामिल कर लिया है।
सूचना मिलने पर नगर निगम की जेसीबी मशीनों ने पहुंचकर मलवा हटाने का काम शुरू कर दिया है। वहीं फॉरेंसिक टीम मौके से मलवे के सैंपल लेकर जांच में लग गई है।

गनीमत रही कि धमाके वाले इस घर के काफी सदस्य पारिवारिक उत्सव के चलते बाहर गए थे और बच्चे आंगन में खेल रहे थे। वरना ये हादसा कई और लोगों की जान भी ले सकता था।





और भी पढ़ें :