पूर्व पाक गेंदबाज का आकलन, गुटबाजी के चलते टी-20 से संन्यास भी ले सकते हैं कोहली

Last Updated: मंगलवार, 21 दिसंबर 2021 (16:33 IST)
कराची: के पूर्व टेस्ट लेग स्पिनर ने कहा है कि विराट कोहली के टी20 प्रारूप की कप्तानी छोड़ने के फैसले से संकेत मिलते हैं कि भारतीय ड्रेसिंग रूम में सब कुछ सही नहीं है। विश्व कप से पहले यूएई में जब का आयोजन हुआ तो कोहली ने घोषणा की कि वह आखिरी बार रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की अगुआई कर रहे हैं और उन्होंने साथ ही पुष्टि की कि टी20 विश्व कप इस प्रारूप में कप्तान के रूप में उनका आखिरी टूर्नामेंट होगा।

मुंबई और दिल्ली के बने हैं गुट

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के हाई परफॉर्मेंस केंद्र में काम कर रहे मुश्ताक ने कहा, 'जब एक सफल कप्तान कहता है कि वह कप्तानी छोड़ना चाहता है तो इसका मतलब है कि ड्रेसिंग रूम में सब कुछ सही नहीं है। मुझे अभी भारतीय ड्रेसिंग रूम में दो गुट नजर आते हैं.... मुंबई और दिल्ली गुट।' कोहली ने सोमवार को नामीबिया के खिलाफ विश्व कप मैच में आखिरी बार टी20 प्रारूप में भारत की अगुआई की। मुश्ताक ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि कोहली जल्द ही टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों से संन्यास ले लेंगे।

टी20 अंतरराष्ट्रीय से ले सकते हैं संन्यास

उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि कोहली जल्द ही देश की ओर से टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलना छोड़ देंगे, वह हालांकि इंडियन प्रीमियर लीग में खेलना जारी रखेगा।' भारतीय टीम 2012 के बाद पहली बार किसी आईसीसी प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में पहुंचने के नाकाम रही और मुश्ताक ने इसके लिए आईपीएल को जिम्मेदार ठहराया। मुश्ताक ने कहा, 'मुझे लगता है कि भारतीय टीम आईपीएल के कारण विश्व कप में फ्लॉप रही। मुझे लगता है कि उनके खिलाड़ी विश्व कप से पहले इतने अधिक समय तक जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में रहने से थक गए थे।'

टी-20 में पाकिस्तान के खिलाफ बनाए 57 रनों को छोड़ दिया जाए तो वह कुछ खास कमाल नहीं कर सके। अफगानिस्तान और नामीबिया के खिलाफ वह बल्लेबाजी के लिए भी नहीं उतरे। कुल मिलाकर यह टी-20 विश्वकप बल्लेबाज और कप्तान के तौर पर कोहली के लिए निराशाजनक रहा।

ओवरऑल टी-20 अंतरराष्ट्रीय में बतौर कप्तान उन्होंने 51 टी-20 मैच खेले हैं, जिसमें से 30 में जीत, 16 में हार, दो ड्रॉ और दो बेनतीजा रहे हैं।

बतौर कप्तान टी-20 रन बनाने के मामले में वह शीर्ष भारतीय कप्तान हैं। 1570 रनों के साथ वह भारत के पहले और दुनिया के चौथे सर्वाधिक रन बनाने वाले टी-20 कप्तान हैं। कप्तान के रूप में सबसे तेज एक हजार टी-20 रन बनाने की उपलब्धि भी उनके नाम है, जो उन्होंने सिर्फ 30 पारियों में हासिल की है। एक बल्लेबाज के तौर पर उन्होंने 94 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 29 अर्धशतकों के साथ 3227 रन बनाए हैं।

टी-20 में विराट कोहली ने बनाए हैं सबसे ज्यादा रन

टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में कोहली ने जितने रन बनाए हैं उतने रन दुनिया के किसी बल्लेबाज ने नहीं बनाए।न्यूज़ीलैंड के मार्टिन गुप्तिल ने 107 मैचों में 3115 रन बनाये थे। और अब टी-20 के वर्तमान कप्तान रोहित शर्मा 116 टी-20 मैचों में 3038 रनों के साथ तीसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं।



और भी पढ़ें :