श्रावण मास में यदि करते हैं ये 5 महत्वपूर्ण कार्य तो मिलेगा शिवजी का आशीर्वाद

Shiva Worship
Worship Lord Shiva
इस बार का प्रारंभ अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार 25 जुलाई 2021 रविवार हो होगा और 26 जुलाई को सावन का पहला सोमवार रहेगा। 22 अगस्त रविवार रक्षा बंधन के दिन श्रावण मास समाप्त हो जाएगा और भाद्रपद माह की शुरुआत हो जाएगी। आओ जानते हैं इस माह में कौनसे 5 महत्वपूर्ण कार्य करने से शिवजी का आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं।

1. : श्रावण मास में सोमवार, प्रदोष, एकादशी और चतुर्दशी के दिन जो व्यक्ति व्रत रखता है उसे शिवजी का आशीर्वाद प्राप्त होता है। विधिवत रूप से व्रत का पालन करें।

2. पूजा : श्रावण माह में शिवजी के साथ ही जो माता पार्वती और नागदेव की पूजा करता है उसे शिवजी का आशीर्वाद प्राप्त होता है। मिट्टी के शिवलिंग बानकर उनकी विधिवत पूजा करें। साथ ही धतूरा, आंकड़े का फूल अर्पित करें।

3. : इस माह में जो भी व्यक्ति नदी का जलभरकर लाता है और उससे शिवलिंग का अभिषेक करता है उसे शिवजी की आशीर्वाद प्राप्त होता है। इसी से
कांवड़ यात्रा की परंपरा है। हर दिन जल और बेलपत्र चढ़ाएं।

4. का जाप : श्रावण माह में प्रतिदिन ॐ नम: शिवाय या महामृत्युंजय मंत्र का 108 बार जप करने से शिवजी का आशीर्वाद प्राप्त होता है।
5. सत्संग, श्रावणी उपाकर्म, पितृ तर्पण और कथा : श्रावण माह चातुर्मास पहला माह है। इस माह में श्राणव कथा और सत्संग, भजन और कीर्तन का बहुत महत्व है। श्रावण अमावस्या पर पितृ तर्पव, श्रावण पूर्णिमा पर श्रावणी उपाकर्म करना चाहिए।



और भी पढ़ें :