पशु क्रूरता की पराकाष्ठा, युवकों ने बंदर को फंदे पर लटकाकर हत्या की

Last Updated: मंगलवार, 30 जून 2020 (01:57 IST)
(तेलंगाना)। दक्षिण भारत में पशु क्रूरता का एक और बड़ा मामला सामने आया है, जिसमें 3 युवकों ने एक को रस्सी से फांसी पर लटकाकर उसकी जान ले ली। सोशल मीडिया में वायरस हुए वीडियो में दिखाई दे रहा है कि तीन लोग एक बंदर को फंदे से लटकाकर उसे मारते हुए दिखाई दे रहे हैं।
वीडियो के वायरल होने के बाद बंदर के साथ ऐसी क्रूरता बरतने के बाद लोगों का गुस्सा भड़क गया। 26 जून को हुई यह घटना तेलंगाना के खम्मम जिले के वेमसूर गांव की है। सथुपल्ली वन रेंज के अधिकारी ए. वेंकटेशवरलु के अनुसार तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इन युवकों ने अपना अपराध भी स्वीकार कर लिया है।

दरअसल ये लोग बंदरों को भगाने के लिए ऐसा क्रूर कृत्य कर रहे थे। जब ये युवक बंदर को फंदे पर लटकाकर मार रहे थे, तब किसी ने इसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

वीडियो के वायरल होने के बाद लोगों का आक्रोश फूट पड़ा और उन्होंने इसे शेयर करते हुए ऐसा कृत्य करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की। वन विभाग के अधिकारी ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ वन्यजीव संरक्षण अधिनियम के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

अधिकारी ने बताया कि आरोपियों ने एक बंदर को पकड़ा था और वह उसे लटकाकर अन्य बंदरों को भगाना चाहते थे। हमें बंदर का शव सड़ी हुई अवस्था में मिला था। सथुपल्ली और नजदीकी इलाकों में लोग बंदरों के आतंक से परेशान थे, जिसकी वजह से कुछ लोगों ने ऐसा कदम उठाया।
इससे पहले 27 मई को केरल के पलक्कड़ में खाने की तलाश में आई गर्भवती हथिनी को कुछ लोगों ने बारूद से भरा अनानास खिला दिया था। अनानास खाते ही हथिनी के मुंह में धमाका हो गया था और फिर बाद में उसकी मौत हो गई थी। इस घटना पर पूरे देश में हलचल मच गई थी और लोगों का गुस्सा सोशल मीडिया पर जमकर फूटा था।

हथिनी की मौत के बाद बंदर को फांसी पर लटकाकर मारने की नई घटना ने एक बार फिर वन्य जीव के संरक्षण पर एक बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है, साथ ही लोगों की गंदी मानसिकता भी खुलकर उजागर हो गई है।




और भी पढ़ें :