कश्मीर में जारी रहेंगी पाबंदियां, पंचायतों में तिरंगा फहराना अनिवार्य

Author सुरेश डुग्गर| Last Updated: बुधवार, 14 अगस्त 2019 (22:48 IST)
जम्मू। कश्मीर में पिछले 10 दिनों से लगाई गई कर्फ्यू पाबंदियों के बारे में पुलिस का कहना है कि फिलहाल हालात ऐसे नहीं हैं कि इन्हें हटाया जा सके इसलिए ये अभी कुछ और दिन जारी रहेंगी। दूसरी ओर राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने पंचायतों से कहा है कि प्रत्येक में तिरंगा फहराना अनिवार्य है और इसे सुनिश्चित बनाया जाना चाहिए।
राज्य के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था और सुरक्षा) मुनीर खान ने दावा किया कि जम्मू-कश्मीर में हालात सामान्य हैं। जम्मू में पाबंदियों को पूरी तरह से उठा लिया गया है। एहतियात के तौर पर कश्मीर के कुछ ही हिस्सों में पाबंदियां लगाई गई हैं। कुछ समय के लिए कश्मीर में अभी ये पाबंदियां जारी रहेंगी।

मुनीर खान ने यह जानकारी बुधवार को श्रीनगर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए देते कहा कि कश्मीर में कानून और व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। कुछ छिटपुट घटनाएं हुई हैं जिसमें कुछ लोग घायल हुए हैं जिनका इलाज चल रहा है और कोई बड़ी घटना नहीं हुई है। पुलिस की प्राथमिकता है कि कोई हताहत न हो। हम कोशिश कर रहे हैं कि जान-माल का कोई नुकसान न हो। खान ने कहा कि कश्मीर में स्वतंत्रता दिवस मनाने की तैयारी पूरी है। सुरक्षा के कड़े प्रबंध हैं।
उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में सीमा पार से हालात को लेकर दुष्प्रचार किया जा रहा है। साल 2010 और 2016 के कुछ वीडियो वायरल कर लोगों की भावनाओं को भड़काया जा रहा है। पुलिस दुष्प्रचार की रोकथाम के लिए प्रभावी कदम उठा रही है। जहां तक जिलों में लगाई गई पाबंदियों की बात है तो इसका फैसला समय पर जिला मजिस्ट्रेट करेंगे।

दूसरी ओर जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने सभी उपायुक्तों से सरपंचों को यह निर्देश देने के लिए कहा है कि स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर वे अपनी अपनी पंचायतों में राष्ट्रीय ध्वज फहराएं। अधिकारियों ने इस बात की जानकारी दी।
जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के सभी जिले में स्वतंत्रता दिवस के लिए मंगलवार को 'फुल ड्रेस रिहर्सल' हुई थी। राज्यपाल को इस रिहर्सल और स्वतंत्रता दिवस समारोहों के आयोजन के संबंध में किए गए सुरक्षा इंतजाम के बारे में बताया गया।

राजभवन में हुई बैठक में मलिक ने कानून व्यवस्था की स्थिति, सुरक्षा इंतजाम और राज्य में लोगों को दी जा रही सेवाओं की स्थिति की समीक्षा की। इसी बैठक में मलिक ने सभी उपायुक्तों से सरपंचों को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर अपनी अपनी पंचायतों में राष्ट्रीय ध्वज फहराने का निर्देश देने के लिए कहा।

 

और भी पढ़ें :