सोमवार, 22 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. प्रादेशिक
  4. Flood situation in Maharashtra is appalling, IMD issues alert for 3 days
Written By
Last Modified: बुधवार, 13 जुलाई 2022 (23:38 IST)

महाराष्ट्र में बाढ़ से हाल भयावह, IMD ने 3 दिनों के लिए जारी किया अलर्ट

महाराष्ट्र में बाढ़ से हाल भयावह,  IMD ने 3 दिनों के लिए जारी किया अलर्ट - Flood situation in Maharashtra is appalling, IMD issues alert for 3 days
महाराष्ट्र के नासिक में नदियां और नाले उफान पर हैं और बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। नागपुर में पिछले 24 घंटे में 10 लोगों की मौत हुई है। आईएमडी ने अगले 3 दिनों में और मूसलधार बारिश की भविष्यवाणी की है। राज्‍य के मुख्‍यमंत्री एकनाथ शिंदे ने मृतकों के परिवारों को 6 लाख रुपए की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की, जिसमें जिला राहत कोष से प्रत्येक को 4 लाख रुपए और नगर निगम से प्रत्येक को 2 लाख रुपए दिए जाएंगे। वहीं घायलों को 50 हज़ार रुपए दिए जाएंगे।

आईएमडी ने कल मुंबई, रायगढ़, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग, कोल्हापुर, सतारा, अमरावती और ठाणे के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। पालघर, नासिक और पुणे में इस बीच कल के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। भारी बारिश और बाढ़ से महाराष्ट्र में अब तक 89 लोगों की मौत हो गई है। भारी बारिश की आईएमडी की चेतावनी के मद्देनजर, पुणे जिला प्रशासन ने जिले के सभी पर्यटन स्थलों में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा जारी की।

प्रशासन ने 14 से 17 जुलाई तक इन स्थानों पर 1 किमी के दायरे में प्रवेश पर रोक लगा दी है। आदेश का उल्लंघन होने पर कार्रवाई की जाएगी। महाराष्ट्र के पालघर के वसई इलाके में भूस्खलन की घटना सामने आई है। इस बीच घरों के क्षतिग्रस्त होने के साथ ही कई लोगों के फंसे होने की आशंका है।

200 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया : महाराष्ट्र में बारिश के चलते पैनगंगा नदी का जलस्तर बढ़ रहा है और कम से कम 200 परिवारों को नांदेड़ जिले में सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

अनुमंडल अधिकारी कीर्ति कुमार पुजारी ने बताया कि जिले के 26 गांवों को जोड़ने वाली सड़कें बाढ़ में जलमग्न हो गई हैं। पिछले 3 दिन से जारी बारिश के चलते पैनगंगा नदी का पानी निचले इलाकों में भरने लगा है, जिसके बाद प्रशासन से एहतियात के तौर पर किनवट तहसील के 200 परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है।

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि नांदेड़ और किनवट के बीच सड़क पर पानी भर गया है, जिसके बाद इसे यातायात के लिए बंद कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि नांदेड के जिलाधिकारी डॉ. विपिन इटांकर ने गोदावरी घाटी में भारी बारिश के मद्देनजर पड़ोसी राज्य तेलंगाना के निर्मल जिले के जिलाधिकारी से संपर्क किया है।

35 यात्रियों की बची जान : महाराष्ट्र के चंद्रपुर जिले में बुधवार को एक छोटी नदी में आई बाढ़ से जलमग्न उस पर बने एक पुल पर बीचोंबीच फंसी एक बस में सवार 35 यात्रियों को पुलिसकर्मियों ने बचाया। पुलिस ने यह जानकारी दी।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि घटना सुबह उस वक्त हुई जब मध्य प्रदेश से हैदराबाद जा रही बस चंद्रपुर जिला मुख्यालय से 28 किलोमीटर दूर राजुरा तहसील में चिंचोली नदी पर बने पुल पर फंस गई। नदी में आई बाढ़ से पुल जलमग्न था।

भारी बारिश के बीच अतिरिक्त पानी की निकासी के लिए इरई बांध से पानी छोड़े जाने के कारण नदी उफना गई थी। अधिकारी ने कहा कि विभिन्न पुलों के जलमग्न होने के कारण तहसील की कुछ सड़कों को यातायात के लिए बंद कर दिया गया है। 
ये भी पढ़ें
मध्यप्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव के अंतिम चरण में 72 फीसदी मतदान