महालक्ष्मी एक्सप्रेस में फंसे सभी 1050 यात्रियों को बचाया गया

पुनः संशोधित शनिवार, 27 जुलाई 2019 (22:47 IST)
मुंबई। कोल्हापुर जाने वाली महालक्ष्मी एक्सप्रेस में सवार सभी 1050 यात्रियों को शनिवार को बचा लिया गया। यात्रियों को बचाने के लिए विभिन्न राहत एजेंसियों द्वारा लगभग 17 घंटे तक अभियान चलाया गया। भारी के कारण रेल पटरियों पर पानी भरने से यह ट्रेन ठाणे जिले में वंगानी के निकट फंस गई थी।

मध्य रेलवे (सीआर) के अधिकारियों ने बताया कि 9 गर्भवती महिलाओं समेत सभी यात्रियों को अपराह्र 3 बजे तक बचा लिया गया। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने राहत दलों की प्रशंसा करते हुए कहा कि केन्द्र स्थिति पर करीबी नजर रखे हुए हैं। उन्होंने ट्वीट किया कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), नौसेना, वायुसेना, सेना, रेलवे और राज्य प्रशासन की टीमों ने सभी यात्रियों को बचा लिया।

यह ट्रेन शुक्रवार की रात को मुंबई से कोल्हापुर के लिए रवाना हुई थी लेकिन यह वंगानी से आगे नहीं जा सकी, जहां इसे शनिवार की तड़के पहुंचना था। सीआर के मुख्य प्रवक्ता सुनील उदासी ने कहा कि सभी 1050 यात्रियों को मौके से बचा लिया गया है।

उदासी ने कहा कि महालक्ष्मी एक्सप्रेस के प्रभावित यात्रियों के साथ 19 डिब्बों वाली एक विशेष ट्रेन कल्याण से कोल्हापुर के लिए रवाना होगी। राहत अभियान में शामिल अधिकारियों ने बताया कि 9 गर्भवती महिलाओं और एक महीने की एक बच्ची को भी सुरक्षित बचा लिया गया है।

 

और भी पढ़ें :