पहली बार के BJP विधायक भूपेंद्र पटेल बने गुजरात के 17वें मुख्यमंत्री

Last Updated: सोमवार, 13 सितम्बर 2021 (14:49 IST)
गांधीनगर। ने आज के नए मुख्यमंत्री पद के रूप में शपथ ली। भूपेन्द्र पटेल राज्य के 17वें मुख्यमंत्री हैं। राजभवन में आयोजित समारोह में राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।

समारोह में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल समेत समेत भाजपा के तमाम नेता शामिल हुए।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भूपेन्द्र पटेल को शुभकामनाएं दीं।

मध्यप्रदेश, गोवा, हरियाणा के मुख्यमंत्री भी समारोह में शामिल हुए। पार्टी संगठन के साथ चर्चा के बाद उसके अगले 1-2 दिन में मंत्रियों के नामों की घोषणा होगी। मीडिया खबरों के मुताबिक अभी उपमुख्यमंत्री पद के लिए कोई चर्चा नहीं हुई है।
पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल के क़रीबी 59 वर्षीय पटेल वर्ष 2017 के पिछले चुनाव में ही पहली बार विधायक चुने गए थे। विधानसभा क्षेत्र अहमदाबाद के घाटलोडिया से एक लाख से अधिक वोटों से जीते थे। घाटलोडिया पटेल के स्वजातीय पाटीदार समुदाय की बहुलता वाला विधानसभा क्षेत्र है। वे मूल रूप से अहमदाबाद के ही रहने वाले है।
गुजरात में पूर्व मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के अचानक इस्तीफ़ा देने के एक दिन बाद कल ज़बरदस्त राजनीतिक गहमागहमी और अटकलबाजियों के बीच भूपेन्द्र रजनीकांत पटेल को उनका उत्तराधिकारी चुन लिया गया। भाजपा विधायक दल की बैठक में रूपाणी ने भूपेन्द्र पटेल के रूप में एकमात्र नाम का प्रस्ताव किया जिसका अनुमोदन पूर्व उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल समेत अन्य विधायकों ने किया।

उन्हें सर्वसम्मति से चुन लिया गया। उनके नाम की घोषणा से एक बार फिर भाजपा का सबको चौंकाने वाला निर्णय सामने आया है। हालांकि पूर्व की अटकलों के अनुरूप पटेल पाटीदार समुदाय से ही आते हैं पर उनके नाम की दूर-दूर तक कोई चर्चा नहीं थी।



और भी पढ़ें :