शुक्रवार, 22 सितम्बर 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. 1983 World Cup winning team supports wrestlers
Written By
Last Updated : शुक्रवार, 2 जून 2023 (18:56 IST)

Wrestlers protest: पहलवानों को मिला चैंपियन्‍स का साथ, 1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम ने कहा- ‘यह दिल तोड़ने वाला है’

Wrestlers protest: लंबे समय से बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे पहलवानों को अब भारत की 1983 वर्ल्ड कप विनर टीम का सपोर्ट मिला है। दरअसल, देश की 1983 की विश्व विजेता टीम ने संयुक्त बयान जारी किया है। बता दें कि दिग्‍गज विजेता क्रिकेटर की टीम के कप्‍तान कपिल देव थे।
इस टीम के सदस्य क्रिकेटर मदनलाल ने न्यूज एजेंसी एएनआई से चर्चा की। मदनलाल ने यौन शोषण के आरोपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ आवाज उठाने वाले पहलवानों के प्रति हो रहे व्यवहार पर नाराजगी और चिंता जाहिर की। मदनलाल ने पहलवानों से गंगा में मेडल ना बहाने की अपील की है। उन्‍होंने अपने बयान में कहा, ‘यह दिल तोड़ने वाला है कि उन्होंने अपने मेडल फेंकने का फैसला किया। हम उनके मेडल फेंकने के पक्ष में नहीं हैं, क्योंकि मेडल अर्जित करना आसान नहीं है और हम सरकार से इस मुद्दे को जल्द से जल्द सुलझाने का आग्रह करते हैं’

1983 विश्व कप विजेता टीम ने जारी अपने बयान में कहा, ‘हम चैंपियन पहलवानों के साथ बदसलूकी की तस्वीरें देखकर काफी व्यथित हैं। हमें इसकी काफी चिंता है कि वे मेहनत से जीते गए पदकों को गंगा में बहाने की सोच रहे हैं। इन मेडलों के पीछे बरसों के प्रयास, बलिदान, समर्पण और मेहनत शामिल है। वे उनका ही नहीं, बल्कि देश का गौरव हैं। हम उनसे अनुरोध करते हैं कि इस मामले में आनन-फानन में फैसला न लें, हम उम्मीद करते हैं कि उनकी शिकायतें सुनी जाएंगी और उनका हल निकाला जाएगा। कानून को अपना काम करने दीजिए’

बता दें कि भारतीय कुश्ती महासंघ के निवर्तमान अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह को कथित यौन उत्पीड़न के आरोपों में गिरफ्तार करने की मांग को लेकर विनेश फोगाट, साक्षी मलिक और बजरंग पूनिया 30 मई को हरिद्वार गए थे, लेकिन मेडलों को गंगा में विसर्जित नहीं किया। वहीं, दिल्ली पुलिस ने 28 मई को प्रदर्शनकारी पहलवानों को कानून और व्यवस्था बिगाड़ने के आरोप में हिरासत में लिया था, जब वे अनुमति के बिना नई संसद की तरफ मार्च कर रहे थे।

क्‍या है बृजभूषण शरण पर आरोप: भारतीय कुश्ती महासंघ के निवर्तमान अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर कथित यौन उत्पीड़न के आरोप हैं। इन्‍हीं आरोपों के साथ उनकी गिरफ्तारी की मांग को लेकर महिला पहलवान विनेश फोगाट, साक्षी मलिक और बजरंग पूनिया समेत कई पहलवान प्रदर्शन कर रहे हैं। लंबे समय दिल्‍ली में प्रदर्शन कर रहे पहलवानों की मांग पर जब सुनवाई नहीं हुई तो पहलवानों ने गंगा में अपने मेडल बहाने का फैसला किया था। हालांकि बाद में मेडल गंगा नदी में नहीं बहाने की अपील पर पहलवान मान गए थे और सरकार को बृजभूषण शरण सिंह पर कार्रवाई को लेकर 5 दिनों का अल्‍टीमेटम दिया था। अब भारत की विश्‍व विजेता टीम पहलवानों के समर्थन में उतर आई है।
Edited: By Navin Rangiyal