IPL में गुजरात टाइटंस के तेज गेंदबाज और विकेटकीपर के लिए आई खुशखबरी

पुनः संशोधित मंगलवार, 17 मई 2022 (18:47 IST)
हमें फॉलो करें
कोलकाता: रणजी ट्रॉफी 2021-22 लीग चरण से बाहर रहने के तीन महीने बाद ऋद्धिमान साहा छह जून से बेंगलुरु में झारखंड के ख़िलाफ़ क्वार्टर-फ़ाइनल से पहले में लौट आए हैं।

बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) ने दल में तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद शमी का भी नाम दिया है। हालांकि उनकी उपलब्धता बीसीसीआई और प्रमुख कोच राहुल द्रविड़ से उनके कार्य प्रबंधन पर बात करने के बाद पुख़्ता हो पाएगी। बंगाल टीम की कमान अभिमन्यु ईश्वरन के हाथों में होगी। गौरतलब है कि दोनों ही खिलाड़ी मौजूदा आईपीएल में नई टीम गुजरात टाइटंस की टीम का हिस्सा है जो प्लेऑफ क्वालिफाय कर चुकी है।

37 वर्षीय साहा की वापसी चर्चा का विषय है जिन्होंने लीग दौर में निजी कारण बताते हुए टीम से अपना नाम वापस ले लिया था। यह फ़ैसला तब आया था जब साहा को श्रीलंका के ख़िलाफ़ हुई घरेलू टेस्ट सीरीज़ में नहीं चुना गया था और सामने आया था कि कोच द्रविड़ ने उनसे बात करते हुए कहा था कि वह अब उनकी योजनाओं का हिस्सा नहीं हैं।

साहा इस समय आईपीएल में बेहतरीन लय में हैं, जहां उन्होंने 123.24 के स्ट्राइक रेट से 281 रन बनाए हैं, जिसमें तीन अर्धशतक शामिल हैं। साहा के अलावा टीम में युवा विकेटकीपर अभिषेक पोरेल हैं, जिन्होंने साहा की अनुपस्थिति में प्रभावित किया था। टीम में श्रीवत्स गोस्वामी का नाम नहीं है, जिन्हें पहले भी टीम में नहीं चुना गया था। गोस्वामी मौजूदा समय में इंग्लैंड में क्लब क्रिकेट खेल रहे हैं।

दल में शमी के छोटे भाई मोहम्मद कैफ़ और बाएं हाथ के स्पिनर अंकित मिश्रा को भी चुना गया है, जिन्होंने अंडर-25 में अच्छा प्रदर्शन किया था। टीम में उनके अलावा शाहबाज़ अहमद और प्रदिप्ता प्रमाणिक भी बाएं हाथ के स्पिनर होंगे।

अनुभवी मध्यम तेज़ गेंदबाज़ नीलकंठ दास और ओपनर सुदीप घरामी को भी टीम में चुना गया है, वहीं बंगाल के जूनियर राज्य खेल मंत्री मनोज तिवारी भी दल का हिस्सा हैं।

बंगाल दल : अभिमन्यु ईश्वरन (कप्तान), मनोज तिवारी, ​ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), मोहम्मद शमी, अनुस्तुप मजुमदार, सुदीप चटर्जी, शाहबाज़ अहमद, अभिषेक रमन, ऋतिक चटर्जी, सायन मंडल, मुकेश कुमार, आकाश दीप, इशान पोरेल, कौशिक घोष, ऋतविक रॉय चौधरी, प्रदीप्त प्रमाणिक, करण लाल,नीलकंठ दास, सुदीप घरामी, अभिषेक पोरेल, मोहम्मद कैफ़, अंकित मिश्रा।



और भी पढ़ें :