रविवार, 14 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. Used to try to learn by watching Zaheer Khan: James Anderson
Written By WD Sports Desk
Last Updated : बुधवार, 28 फ़रवरी 2024 (17:28 IST)

James Anderson इस पूर्व भारतीय खिलाड़ी को मानते हैं अपना गुरु

जब जेम्स एंडरसन ने 2002 में डेब्यू किया था तब इंग्लैंड के उनके टीम साथी Shoaib Bashir और Rehan Ahmed का जन्म भी नहीं हुआ था

James Anderson इस पूर्व भारतीय खिलाड़ी को मानते हैं अपना गुरु - Used to try to learn by watching Zaheer Khan: James Anderson
Image : UNI


James Anderson on Zaheer Khan IND vs ENG Test Series : इंग्लैंड के महानतम तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन (James Anderson) ने कहा है कि उन्होंने रिवर्स स्विंग सहित तेज गेंदबाजी के कुछ गुर भारत के दिग्गज तेज गेंदबाज जहीर खान (Zaheer Khan) से सीखे।
 
एंडरसन 41 साल की उम्र में भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल रहे हैं और 700 टेस्ट विकेट चटकाने वाला दुनिया का पहला तेज गेंदबाज बनने से सिर्फ दो विकेट दूर हैं। उनके नाम पर लगभग 1000 अंतरराष्ट्रीय विकेट दर्ज हैं।
 
अभी सिर्फ महान स्पिनर मुथैया मुरलीधरन (Muttiah Muralitharan) और दिवंगत शेन वार्न (Shane Warne) के नाम पर 700 से अधिक टेस्ट विकेट हैं।

एंडरसन ने Jio Cinema से कहा, ‘‘मैंने जहीर खान को काफी खेलते हुए देखा है और उनसे सीखने का प्रयास किया है। वह किस तरह रिवर्स स्विंग का इस्तेमाल करता है, जब वह गेंदबाजी के लिए दौड़ता है तो गेंद को कैसे छिपाता है, यहां उसके खिलाफ खेलकर मैंने यह सीखने का प्रयास किया।’’
 
भारत के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजों में से एक जहीर ने अपना आखिरी टेस्ट 2014 में खेला जब एंडरसन अपने खेल के शीर्ष पर थे।
 
मौजूदा भारतीय तेज गेंदबाजों में एंडरसन जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की क्षमता से सबसे अधिक प्रभावित हैं।
 
इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट में बुमराह के मैच विजयी प्रदर्शन के बारे में पूछने जाने पर एंडरसन ने कहा, ‘‘उसके स्तर के किसी व्यक्ति से आप इस तरह के मानक की अपेक्षा करते हैं। आप जानते हैं कि रिवर्स स्विंग (Reverse Swing) भारत में बड़ी भूमिका निभा सकती है और वह इसका काफी अच्छी तरह फायदा उठाता है। उसके पास अच्छी गति है और वह बहुत सटीक है और उसकी गेंदबाजी में निरंतरता है।’’
उन्होंने कहा, ‘‘उसके पास यॉर्कर (Yorker) भी है और हमने देखा कि उसने ओली पोप (Ollie Pope) को कैसे आउट किया। यह कोई संयोग नहीं है कि वह दुनिया में नंबर एक गेंदबाज है। वह एक विश्व स्तरीय गेंदबाज है और हम उसके इस तरह के प्रगदर्शन से हैरान नहीं हैं।’’

इंग्लैंड के इस अनुभवी तेज गेंदबाज ने कहा, ‘‘बुमराह, (मोहम्मद) शमी और (मोहम्मद) सिराज से बेहतर काफी गेंदबाज नहीं हैं। वे विश्व स्तरीय गेंदबाज हैं। आप इशांत शर्मा (Ishant Kishan) को भी इस श्रेणी में डाल सकते हैं और यह काफी मजबूत गेंदबाजी आक्रमण है।
 
एंडरसन के अनुभव का अंदाजा इस बात से लग सकता है कि 2002 में जब उन्होंने टेस्ट पदार्पण (Test Debut) किया था तो इंग्लैंड टीम के उनके मौजूदा साथी शोएब बशीर (Shoaib Bashir) और रेहान अहमद (Rehan Ahmed) का जन्म भी नहीं हुआ था।
 
एंडरसन ने पिछले 22 साल में 186 Test और 194 ODI मुकाबले खेले। उन्होंने कहा कि उन्हें महसूस नहीं होता कि वह 41 बरस के हैं।
 
उन्होंने कहा, ‘‘मुझे महसूस ही नहीं होता कि मैं 41 साल और 200 दिन का हूं। मैं अब भी युवा महसूस करता हूं।’’ (भाषा) 
ये भी पढ़ें
पेरिस ओलंपिक में भारतीय एथलेटिक्स अब सिर्फ नीरज चोपड़ा पर निर्भर नहीं