मंगलवार, 16 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. Ishan kishan scored 19 runs In dy patil t20 cup, not played ranji trophy
Written By WD Sports Desk
Last Modified: बुधवार, 28 फ़रवरी 2024 (13:24 IST)

3 महीने बाद की ईशान ने वापसी पर बना पाए सिर्फ 19 रन

Ishan Kishan पिछली बार भारत के लिए पिछले साल नवंबर में घरेलू मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ T20 Series के दौरान खेले थे

3 महीने बाद की ईशान ने वापसी पर बना पाए सिर्फ 19 रन - Ishan kishan scored 19 runs In dy patil t20 cup, not played ranji trophy
Ishan Kishan DY Patil Cup :  रणजी ट्रॉफी मुकाबलों में नहीं खेलने के कारण आलोचना का सामना कर रहे भारत के विकेटकीपर बल्लेबाज इशान किशन (Ishan Kishan) ने मंगलवार को प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में प्रभावहीन वापसी करते हुए यहां डीवाई पाटिल कप (DY Patil Cup) में 19 रन बनाए।
 
टूर्नामेंट के दूसरे दिन भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के लिए खेलते हुए 25 साल के इशान ने मध्यम गति के गेंदबाज सायन मंडल की गेंद पर सुमित ढेकाले को स्टंप किया और बाद में 12 गेंदों में दो चौकों और एक छक्के की मदद से 19 रन बनाए। आरबीआई को रूट मोबाइल लिमिटेड के खिलाफ 89 रन से हार का सामना करना पड़ा।
 
डीवाई पाटिल यूनिवर्सिटी ग्राउंड पर रूट मोबाइल ने पहले बल्लेबाजी करते हुए आयुष वर्तन की 31 गेंद में 54 रन और ढेकाले की 42 रन की पारी की बदौलत 20 ओवर में आठ विकेट पर 192 रन बनाए।
 
जवाब में आरबीआई की टीम 16.3 ओवर में सिर्फ 103 रन पर आउट हो गई। रूट मोबाइल की ओर से बद्री आलम ने 20 रन देकर पांच विकेट चटकाए।

IPL में मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के लिए खेलने वाले इशान पिछली बार भारत के लिए पिछले साल नवंबर में घरेलू मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ T20 Series के दौरान खेले थे।
इसके बाद उन्होंने भारत के दक्षिण अफ्रीका दौरे के बीच में ब्रेक लेने का फैसला किया और उन्हें अफगानिस्तान के खिलाफ घरेलू मुकाबलों और इंग्लैंड के खिलाफ चल रही पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला के लिए नजरअंदाज कर दिया गया।
 
झारखंड के लिए घरेलू क्रिकेट खेलने वाले इशान रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) के अंतिम दौर के मैचों में नहीं खेले और उन्हें मुंबई इंडियन्स के अपने कप्तान हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) के साथ ट्रेनिंग करते देखा गया।
 
Ishan Kishan का First Class Cricket नहीं खेलना और केवल IPL पर ध्यान केंद्रित करना भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) के इस फैसले के पीछे का एक कारण था कि खिलाड़ियों को लुभावनी लीग के नीलामी पूल का हिस्सा बनने का पात्र होने के लिए न्यूनतम संख्या में रणजी ट्रॉफी मैच खेलने होंगे।  (भाषा)
ये भी पढ़ें
लंदन गए केएल राहुल, INDvsENG सीरीज के पांचवे टेस्ट से बाहर होना तय