वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरी पारी में राहुल ने 63 गेंदों पर 6 रन बनाकर लजवाया

वेबदुनिया न्यूज डेस्क| Last Updated: सोमवार, 2 सितम्बर 2019 (01:23 IST)
जमैका। वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में खेल रहे भारत के सलामी बल्लेबाज लजवाने के सिवाय कुछ नहीं कर रहे हैं। इस टेस्ट की दोनों पारियों में उनकी नाकामी इस बात का सबूत है कि उन्हें तेज और उछाल वाली पिचें रास नहीं आ रही हैं।

ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंद को छेड़ा : किंग्स्टन के विकेट पर उनके फुटवर्क पर भी सवालिया निशान लगना इसलिए लाजमी है कि दूसरी पारी में उन्होंने की ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंद को छेड़खानी की और विकेट के पीछे हैमिल्टन के दस्ताने उनका कैच लपकने के लिए बेताब थे।

पहली पारी में भी राहुल ने किया था निराश : राहुल ने दूसरी पारी में 63 गेंदों का सामना किया और मात्र 6 रन ही बनाए। पहली पारी में भी राहुल 26 गेंदों पर 13 रन बनाकर पैवेलियन लौटे थे। पहले टेस्ट की पहली पारी में राहुल ने 44 और दूसरी पारी में 38 रनों का योगदान दिया था। राहुल ने अब तक 36 टेस्ट मैच खेले हैं और उनके नाम के आगे 2006 रन जमा है। हालांकि वे टेस्ट क्रिकेट में 5 शतक और 11 अर्धशतक ठोंकने में जरूर कामयाब हुए हैं।
भारत को पहली पारी में 299 रनों की लीड : तीसरे दिन के खेल में जब भारत ने वेस्टइंडीज को 117 रनों पर समेट दिया। पहली पारी के आधार पर भारत को 299 रनों की लीड मिली थी। लोकेश राहुल और मयंक अग्रवाल ने बहुत अच्छी स्थिति में पारी की शुरु‍आत की लेकिन रोच ने मयंक को 4 रन पर पगबाधा आउट कर डाला। भारत का पहला विकेट 9 रन पर गिरा।
स्पिनर के आगे भी हारे राहुल : राहुल का साथ देने के लिए चेतेश्वर पुजारा ने मैदान संभाला। तेज गेंदबाजी के सामने राहुल का असहज होकर खेलना समझ में आता है लेकिन 140 किलो वजनी रहकीम कॉर्नवाल जैसे स्पिनर भी उन्हें लगातार परेशान करते रहे। आखिरी में वही हुआ, जिसका डर था। रोच की ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंद छोड़ी भी जा सकती थी लेकिन उस पर बल्ला अड़ाने की छेड़खानी उन्हें महंगी पड़ी और वे 6 रन के निजी स्कोर पर चलते बने। भारत ने दूसरा विकेट 36 रन पर गंवाया।

रोच चूके हैट्रिक : 21वें ओवर में लोकेश राहुल को 6 रन पर आउट करने के बाद रोच ने अगली गेंद पर कप्तान विराट कोहली को खाता खोलने के पहले पैवेलियन का रास्ता दिखाया। इस बार भी गेंद ऑफ स्टंप से बाहर थी और जो गलती राहुल ने की थी, वही गलती कोहली ने भी की। की तरह रोच भी हैट्रिक पर थे लेकिन भाग्य नए बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे के साथ था। गेंद स्टंम्प्स के नजदीक से चली गई। इस तरह रोच हैट्रिक से चूक गए।
तीसरे दिन 30 रन जोड़कर मेजबान टीम ढेर : तीसरे दिन वेस्टइंडीज ने 7 विकेट पर 87 रन से आगे खेलना और 30 रन जोड़कर पूरी टीम 117 रनों पर सिमट गई। जसप्रीत बुमराह ने 12.1 ओवर में 27 रन देकर हैट्रिक समेत 6 विकेट झटके। मोहम्मद शमी के हिस्से में 34 रन देकर 2 विकेट आए।


चाय के समय भारत का स्कोर : तीसरे दिन चायकाल के समय तक भारत ने दूसरी पारी में 37 ओवर में 4 विकेट खोकर 73 रन बना लिए थे। अब उसकी कुल बढ़त 372 रनों की हो गई है। चायकाल के समय उप कप्तान 23 और हनुमा विहारी 3 रन पर नाबाद हैं। वेस्टइंडीज के लिए कैमर रोच ने 7 ओवर में 12 रन देकर 3 विकेट लिए।

 

और भी पढ़ें :