#SATYAGRAH_AgainstExamsInCovid : JEE और NEET की परीक्षाओं को लेकर छात्रों का सत्याग्रह, कांग्रेस ने PM मोदी को लिखा पत्र

वेबदुनिया न्यूज डेस्क| Last Updated: रविवार, 23 अगस्त 2020 (22:54 IST)
नई दिल्ली। कोरोना काल में और NEET की परीक्षा को लेकर छात्रों का विरोध मुखर होता जा रहा है। छात्र सड़कों पर उतरकर विरोध प्रदर्शन नहीं कर सकते, तब उन्होंने सोशल मीडिया को ही अपना हथियार बना लिया है। के बढ़ते मामलों को देखते हुए कई छात्रों और अभिभावकों ने प्रवेश परीक्षा स्थगित करने की मांग की है। सोशल मीडिया पर#SATYAGRAH_AgainstExamsInCovid ट्रेंड कर रहा है। इधर कांग्रेस ने भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को चिट्ठी लिखी है।
JEE और NEET परीक्षाओं की तारीखों के ऐलान के बाद ही छात्र विरोधस्वरूप सोशल मीडिया पर यह सत्याग्रह कर रहे हैं। छात्रों का कहना है कि कोरोना और बाढ़ से वे पहले ही त्रस्त हैं। ऐसे में उनके लिए परीक्षा में शामिल होना कठिन है। छात्रों ने सरकार से अपील है कि परीक्षाएं फिलहाल रद्द की जाएं ताकि सही समय पर वे परीक्षाओं में बैठ सकें।

निर्धारित समय पर होगी परीक्षा : (मुख्य) 1 सितंबर से 6 सितंबर के बीच आयोजित किया जाना है जबकि जेईई (एडवांस्ड) 27 सितंबर को आयोजित किया जाएगा। वहीं, नीट का आयोजन 13 सितंबर को होगा। शिक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने शुक्रवार को कहा था कि जेईई (मुख्य) और नीट-यूजी की परीक्षाएं सितंबर में निर्धारित समय पर आयोजित की जाएंगी। सुप्रीम कोर्ट ने छात्रों का कीमती वर्ष बर्बाद ना होने का हवाला देते हुए सोमवार को जेईई (मेन) और नीट स्नातक परीक्षा स्थगित करने का अनुरोध करने वाली याचिका को खारिज कर दिया था। इसका आयोजन सितंबर माह में निर्धारित है।
Rahul Gandhi
सुने छात्रों की मन की बात : कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने सरकार से राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) और संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) को लेकर छात्रों की चिंताओं पर विचार करने और स्वीकार्य समाधान निकालने का आग्रह किया। राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि भारत सरकार को नीट, जेईई परीक्षा के बारे में छात्रों के मन की बात को सुनना चाहिए और स्वीकार्य समाधान पर पहुंचना चाहिए।
परीक्षा के
लिए

नहीं है सामान्य परिस्थिति : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट किया कि कोरोना को लेकर देश में परिस्थितियां अभी सामान्य नहीं हुई हैं। ऐसे में अगर नीट और जेईई परीक्षा देने वाले छात्र-छात्राओं व उनके अभिभावकों ने कुछ चिंताएं जाहिर की हैं तो भारत सरकार व टेस्ट कराने वाली संस्थाओं को उस पर सही से सोच विचार करना चाहिए।
Adhir Ranjan Chaudhary
पीएम मोदी को लिखा पत्र : लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने जेईई और नीट परीक्षा को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखा है। उन्होंने कोरोना के हालात को देखते हुए परीक्षा को टालने की मांग की है। कांग्रेस नेता ने कहा कि जब तक स्थिति ठीक नहीं हो जाती है तब तक परीक्षा को टाल दिया जाए। अधीर रंजन चौधरी ने अपने खत में लिखा है कि शारीरिक रूप से परीक्षा में शामिल होने के दौरान छात्र इस बात को लेकर काफी मानसिक दबाव में कि वे कैसे इस संक्रमण से बच पाएंगे। महामारी के इस समय में छात्रों की चिंता पर ध्यान देना चाहिए।



और भी पढ़ें :