हनुमान चालीसा में गुप्त रूप से वर्णित हैं बजरंगबली के 109 नाम

61. श्री सुग्रीवजी को राजपद दिलाने वाले
62. श्री वि‍भीषणजी को मंत्र प्रदान करने वाले
63. श्री वि‍भीषणजी को लंकापति बनाने वाले 
64. हजारों योजन तक उड़ने वाले
65. श्री सूर्यनारायण को फल समझकर निगलने वाले
66. श्रीराम नाम मुद्रिका मुख में रखने वाले 
67. जलधी (समुद्र) को लांघने वाले 
68. कठिन कार्य को सरल बनाने वाले
69. श्री रामचन्द्रजी के द्वार के रखवाले 
70 श्री रामचन्द्रजी के दरबार में प्रवेश की आज्ञा प्रदान करने वाले (श्री रामजी की आज्ञा के बगैर कहीं न जाने वाले)



और भी पढ़ें :