सोमवार, 15 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. अंतरराष्ट्रीय
  4. General elections in Pakistan
Last Updated :इस्लामाबाद , बुधवार, 7 फ़रवरी 2024 (18:05 IST)

12.85 करोड़ से ज्यादा वोटर, 5,121 उम्मीदवार, 6,50,000 सुरक्षाकर्मी रहेंगे तैनात, ऐसे होंगे पाकिस्तान के आम चुनाव

12.85 करोड़ से ज्यादा वोटर, 5,121 उम्मीदवार, 6,50,000 सुरक्षाकर्मी रहेंगे तैनात, ऐसे होंगे पाकिस्तान के आम चुनाव - General elections in Pakistan
पाकिस्तान में गुरुवार को होने वाले आम चुनाव के लिए लगभग 6,50,000 सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं। अधिकारियों ने बताया कि इस चुनाव में 12.85 करोड़ से अधिक पंजीकृत मतदाता मतदान करेंगे। देश में आम चुनाव से एक दिन पहले बुधवार को बलूचिस्तान प्रांत में चुनाव कार्यालयों को निशाना बनाकर किए गए 2 बम विस्फोटों में कम से कम 25 लोग मारे गए और 42 अन्य घायल हो गए।
 
‘रेडियो पाकिस्तान’ की खबर के अनुसार मतदाताओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए लगभग 6,50,000 सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं। इनमें पुलिस, नागरिक सशस्त्र बल और सशस्त्र बल के जवान शामिल हैं। मतदान गुरुवार की सुबह आठ बजे शुरू होगा और शाम पांच बजे तक जारी रहेगा।
 
पाकिस्तान निर्वाचन आयोग (ईसीपी) के अनुसार कुल 12,85,85,760 पंजीकृत मतदाता वोट देने के पात्र हैं।नेशनल असेंबली की सीट के लिए 5,121 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं जिनमें से 4,807 पुरुष, 312 महिलाएं और दो ट्रांसजेंडर शामिल हैं।
 
चार प्रांतीय विधानसभाओं के लिए 12,695 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें 12,123 पुरुष, 570 महिलाएं और दो ट्रांसजेंडर शामिल हैं।
 
पाकिस्तान निर्वाचन आयोग (ईसीपी) के एक अधिकारी ने बताया कि पीठासीन अधिकारी, जिन्हें पहले से ही मजिस्ट्रेट की विशेष शक्तियां दी गई हैं, पुलिस और सैन्यकर्मियों की सुरक्षा में मतदान सामग्री को मतदान केंद्रों तक ले जाएंगे।
 
कहां कितने मतदाता : ईसीपी के आंकड़ों के अनुसार पंजाब में सबसे अधिक 7,32,07,896 पंजीकृत मतदाता हैं, इसके बाद सिंध में 2,69,94,769, खैबर पख्तूनख्वा में 2,19,28,119, बलूचिस्तान में 53,71,947 और राजधानी इस्लामाबाद में 10,83,029 मतदाता हैं।
 
आंकड़ों के अनुसार ईसीपी ने देशभर में 9,07,675 मतदान केंद्र स्थापित किये हैं, जिनमें पुरुष मतदाताओं के लिए 25,320, महिलाओं के लिए 23,952 और अन्य 41,403 मिश्रित मतदान केंद्र शामिल हैं।
 
ईसीपी के अनुसार 44,000 मतदान केंद्र सामान्य हैं जबकि 29,985 को संवेदनशील और 16,766 को अत्यधिक संवेदनशील घोषित किया गया है।
 
बंद नहीं रहेगा इंटरनेट : आतंकवादी समूहों की ओर से हमलों के खतरे के कारण सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई है। दूरसंचार नियामक, पाकिस्तान दूरसंचार प्राधिकरण (पीटीए) ने उन अफवाहों को खारिज कर दिया कि चुनाव के दिन इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी जाएंगी। पीटीए ने कहा कि मतदान के दिन लोगों के लिए इंटरनेट सुविधा उपलब्ध रहेगी।
ये भी पढ़ें
महंगाई और गरीबी को लेकर विपक्ष ने साधा निशाना, सरकार ने किया पलटवार