इंदौर में नकली शराब से मरने वालों की संख्‍या बढ़कर 5 हुई

पुनः संशोधित शुक्रवार, 6 अगस्त 2021 (18:32 IST)
हमें फॉलो करें
(मध्य प्रदेश)। इंदौर के एक निजी अस्पताल में भर्ती 38 वर्षीय बैंक कैशियर के शुक्रवार को दम तोड़ने के बाद नकली पीने से मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 5 हो गई है।
बाणगंगा पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया कि मोहन सिंह (38) की शहर के एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई। वह एक बैंक में कैशियर थे। उन्होंने बताया कि मरीमाता इलाके के एक बार में 24 जुलाई को शराब पीने के बाद सिंह की तबीयत बिगड़ गई थी और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि सिंह के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। इस बीच, पुलिस अधीक्षक महेशचंद्र जैन ने बताया कि पखवाड़े भर के भीतर शहर के दो बार में शराब पीने के अलग-अलग घटनाक्रमों में चार अन्य लोगों की भी मौत हो चुकी है। इनकी उम्र 30 से 40 साल के बीच थी।

उन्होंने बताया कि पुलिस की जांच में पता चला कि शराब पीने के बाद दम तोड़ने वाले इन लोगों ने एक ही ब्रांड की नकली व्हिस्की का सेवन किया था। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि नकली शराब कांड में दोनों बारों के संचालकों समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है और मामले में विस्तृत जांच जारी है।(भाषा)



और भी पढ़ें :