जानिए महाकुंभ की पौराणिक कथाएं


श्री गोपालदत्त शास्त्री महाराज जो रामानुज सम्प्रदाय के आचार्य हैं, ने एक लघु पुस्तिका 'कुंभ महात्म्य' के नाम से लिखी है, जिसमें 'की प्रचलित तीन कथाएं' शीर्षक से जिन कथाओं का उल्लेख किया गया है उनमें सर्वोपरि महत्ता समुद्र-मंथन से सम्बद्ध कथा को मिली है पर अन्य कथाओं की भी उपेक्षा नहीं की जा सकती। क्रम यह दिया गया है : -
> > * महर्षि दुर्वासा की कथा
* कद्रू-विनता की कथा
* समुद्र-मंथन की कथा
 
अगले पेज पर पढ़ें पहली कथा 
 
 



और भी पढ़ें :