जानिए, इरिटेबल बॉएल सिंड्रोम (IBS) के संकेत और बचाव के तरीके

irritable bowel syndrome
(irritable bowel syndrome) के मरीजों को दस्त व कब्ज जैसी समस्या बनी रहती है। डॉक्टरों के अनुसार इस में मरीजों की आंत की बनावट में कोई बदलाव नहीं होने के बावजुद भी उन्हें ऐसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। आइए, जानते हैं वे संकेत जो इरिटेबल बॉएल सिंड्रोम की ओर इशारा करते हैं, साथ ही जानें इस रोग से राहत पाने के उपाय -

1 नाश्ते या खाने के तुरंत बाद या कुछ देर बाद ही शौच जाने की जरूरत महसूस होना।

2 चाय, दूध जैसे ड्रिंक पीने के तुरंत बाद या कुछ देर बाद ही शौच जाने की जरूरत महसूस होना।

3 एक बार में पेट साफ नहीं होना।

इरिटेबल बॉएल सिंड्रोम (IBS) से राहत पाने के लिए डॉक्टर से परामर्श जरूर लें, साथ ही इन उपाय से भी आपको समस्या में राहत मिलेगी -

1. फाइबर युक्त खाना खाएं जैसे चोकर सहित आटे की रोटियां, हरी सब्जियां, फल आदि।

2. ऐसी चीजें जिन्हें खाने पर आपको पड़े, उन्हें खाने से बचें। ये खान-पान की चीजें सभी व्यक्तियों के लिए अलग-अलग हो सकती है।

3. खाने-पीने का समय नियमित रखें और एक बार में ज्यादा न खाकर थोड़ा-थोड़ा खाएं। साथ ही अपनी डाइट में दही, छाछ आदि जरूर शामिल करें।

4. नियमित रूप से थोड़ा व्यायाम करें, इससे तनाव का स्तर घटता है और भोजन पाचने में मदद मिलती है।

 

और भी पढ़ें :