world smile day : विश्व मुस्कान दिवस क्यों मनाते हैं?

World Smile Day
हर साल अक्टूबर के पहले शुक्रवार को (World Smile Day) को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मनाया जाता है। इस बार विश्व मुस्कान दिवस (World Smile Day) सात अक्टूबर 2022 को मनाया जा रहा है।


जिंदगी में हर कोई खुश रहना चाहता है लेकिन अक्सर हम परेशानियों में घिरे रहते हैं तथा चिंता और तनाव के कारण हम मुस्कुराना भूल जाते हैं। अत: 'वर्ल्ड डे' का मुख्य उद्देश्य लोगों की जिंदगी में मुस्कुराहट के महत्व को समझाना है।
आइए जान‍ते हैं आखिर क्यों मनाया जाता है विश्व मुस्कान दिवस-World Smile Day

दरअसल, विश्व मुस्कान दिवस का आइडिया आर्टिस्ट (harvey-bal) को आया था और वे ही सन् 1963 में स्माइलिंग फेस (Face) बनाने के लिए फेमस हुए और उनके मन यह दिवस मनाने का विचार आया था।

उसके बाद हार्वे बाल ने ही यह एलान किया कि प्रतिवर्ष अक्टूबर के पहले शुक्रवार को वर्ल्ड स्माइल डे होने वाला है और इसी तरह सन् 1999 में पहली बार विश्व मुस्कान दिवस या वर्ल्ड स्माइल डे स्माइली के गृह नगर और दुनियाभर में सेलिब्रेट गया था। तत्पश्चात सन् 2001 में हार्वे के निधन के बाद हार्वे बॉल वर्ल्ड स्माइल फाउंडेशन द्वारा उनके नाम और स्मृति को सम्मानित करने के लिए यह दिन व्यापक स्तर पर मनाया गया। तभी से प्रतिवर्ष यह संस्था वर्ल्ड स्माइल डे (World Smile Day) की ऑफिशियल स्पॉन्सर भी होती है।

ज्ञात हो कि विश्‍व मुस्कान दिवस का उद्देश्य लोगों को मुस्कुराने तथा उनके जीवन में खुशियां लाने के प्रोत्साहित करना हैं, क्योंकि इस भागदौड़ भरी जिंदगी में लोग मुस्कुराने भूलकर तनावभरा जीवन व्यतीत करने को मजबूर हैं और फिर डिप्रेशन में चले जाते हैं अत: मुस्कुराते रहने से तनाव काफी हद तक समाप्त हो जाता है और कठिन से कठिन परिस्थितियों में भी एक छोटीसी मुस्कान हमें मजबूती प्रदान करती है और हम परिस्थितियों से लड़ने में सक्षम हो जाते हैं।

अत: लोगों को मुस्कुराने के प्रति जागरूक करना ही इस दिन का मुख्य उद्देश्य है। मुस्कुराना जहां सेहत के लिए बहुत अच्छा माना गया है, वहीं एक स्माइली से हम दूसरों को भी खुशियां बांटने का एक महत्वपूर्ण कार्य करते हैं।

आरके.


World Smile Day



और भी पढ़ें :