सोमवार, 22 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. धर्म-संसार
  2. व्रत-त्योहार
  3. एकादशी
  4. Kamada Ekadashi Date 2023
Written By

कामदा एकादशी कब है 1 या 2 अप्रैल को? क्यों है कंफ्यूजन?

कामदा एकादशी कब है 1 या 2 अप्रैल को? क्यों है कंफ्यूजन? - Kamada Ekadashi Date 2023
वर्ष 2023 में कामदा एकादशी (Kamada Ekadashi) व्रत 1 और 2 अप्रैल को मनाने की बात कहीं जा रही है। कैलेंडर के मत-मतांतर तथा तिथि के समयानुसार यह एकादशी 1 और 2 अप्रैल को दोनों ही दिन मनाई जाने की संभावना है।

इस संबंध में समस्या यह है कि कामदा एकादशी व्रत गृहस्थ यानी स्मार्त कब रख सकते हैं और वैष्णव यानी वे लोग जिन्होंने किसी विशेष संप्रदाय के धर्माचार्य से दीक्षा लेकर तुलसी माला, तिलक आदि धारण किया हुआ हैं, वे सभी 'वैष्णव' के अंतर्गत आते हैं। अत: इसी वजह से कामदा एकादशी को लेकर कंफ्यूजन बना हुआ है। बता दें कि 1 अप्रैल को गृहस्थ लोग और 2 अप्रैल को वैष्णव लोग कामदा एकादशी का व्रत रखेंगे। 
 
आपको बता दें कि चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की इस एकादशी को कामदा एकादशी के रूप में जनमानस में जाना जाता है। हिन्दू नववर्ष, चैत्र नवरात्रि तथा राम नवमी के बाद यह पहली एकादशी पड़ रही है, और इस एकादशी की तिथि को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है, जिसमें स्मार्त, वैष्णव के लिए अलग-अलग मुहूर्त प्राप्त हो रहे हैं। आइए जानते हैं यहां-
 
1. कामदा एकादशी व्रत के शुभ मुहूर्त एवं पारण समय- 
 
* कामदा एकादशी व्रत : शनिवार, अप्रैल 1, 2023 को
 
एकादशी तिथि का प्रारंभ- अप्रैल 01, 2023 को 01.58 ए एम से शुरू 
एकादशी तिथि का समापन- अप्रैल 02, 2023 को 04.19 ए एम पर।
 
*  कामदा एकादशी पारण कब होगा- 
 
रविवार, 2 अप्रैल का पारण समय- 01.40 पी एम से 04.10 पी एम तक।
हरि वासर खत्म होने का टाइम- 10.50 ए एम
 
2. वैष्णव कामदा एकादशी रविवार, अप्रैल 2, 2023 को
 
* चैत्र शुक्ल एकादशी तिथि का प्रारंभ- अप्रैल 01, 2023 को 01.58 ए एम से शुरू। 
एकादशी तिथि की समाप्ति- अप्रैल 02, 2023 को 04.19 ए एम पर। 
 
* वैष्णव एकादशी पारण टाइम 2023 :
 
3 अप्रैल 2023 के दिन व्रत तोड़ने का (पारण) समय- 06.09 ए एम से 06.24 ए एम तक।
3 अप्रैल को (पारण के दिन) द्वादशी के समापन का समय- 06.24 ए एम पर। 
 
अप्रैल 1, 2023 : दिन का चौघड़िया
 
शुभ- 07.45 ए एम से 09.18 ए एम
चर- 12.25 पी एम से 01.59 पी एम
लाभ- 01.59 पी एम से 03.32 पी एम
अमृत- 03.32 पी एम से 05.05 पी एम
 
रात का चौघड़िया
लाभ- 06.39 पी एम से 08.05 पी एम
शुभ- 09.32 पी एम से 10.58 पी एम
अमृत- 10.58 पी एम से अप्रैल 02 को 12.25 ए एम, अप्रैल तक।
चर- 12.25 ए एम से अप्रैल 02 को 01.51 ए एम तक।
लाभ- 04.44 ए एम से अप्रैल 02 को 06.11 ए एम तक।