पाक स्‍टूडेंट ने अपनी सरकार से मांगी मदद, सरकार ने कहा- ये गैर जिम्‍मेदार काम हम नहीं करेंगे

वुहान में कोरोना वायरस जहां दुनियाभर में चिंता का विषय बना हुआ है, वहीं चाइना में रह रहे पाकिस्‍तानी स्‍टूडेंट के लिए एक नया संकट पैदा हो गया है। दरअसल, चीन के वुहान शहर के साथ ही वहां के अन्‍य शहरों में रह रहे दूसरे देशों के स्‍टूडेंट्स को अपने-अपने देश की सरकारें उन्‍हें चीन से वापस ला रही है।
हाल ही में भारत चीन में रह रहे अपने लोगों को भारत लेकर आई है, वहीं बांग्‍लादेश भी लगातार अपने लोगों को चीन से लाने का काम कर रहा है, लेकिन पाकिस्‍तान के लोग और स्‍टूडेंट वुहान में फंसे हुए हैं और वे अपनी सरकार का इंतजार कर रहे हैं।

दरअसल, ट्विटर और अन्‍य सोशल मीडिया पर पाकिस्‍तानी स्‍टूडेंट लगातार वीडियो पोस्‍ट कर के पाकिस्‍तान सरकार की पोल खोल रहे हैं।

एक पाकिस्‍तानी स्‍टूडेंट ने वीडियो पोस्‍ट किया है, जिसमें वो एक बस का दृश्‍य दिखा रहा है। यह वुहान युनिवर्सिटी का दृश्‍य है, जहां से इंडियन स्‍टूडेंट बस में बैठकर एयर पोर्ट जा रहे हैं। जहां से उन्‍हें भारत लाया जाएगा। इसी तरह बांग्‍लादेश के स्‍टूडेंट को भी लाया गया। पाकिस्‍तानी स्‍टूडेंट वीडियो में कह रहा है कि शेम ऑन यू पाकिस्‍तानी। भारत और बांग्‍लादेश की सरकारें अपने लोगों को चाइना से ले जा रही है, लेकिन पाकिस्‍तान सरकार ने अपने लोगों को कोरोना वायरस वाले देश चीन में अकेले मरने के लिए छोड दिया है।

कराची की एक स्‍टूडेंट मेहरुन्‍निसा ने वीडियो पोस्‍ट कर के बता रही है कि मीडिया में जो हालात चीन को लेकर दिखाए जा रहे हैं, हालात उससे कहीं ज्‍यादा खराब है। लेकिन पाकिस्‍तान सरकार उन्‍हें अब तक लेने नहीं आई। वो लगभग रोते हुए कह रही है कि सरकार किस चीज का इंतजार कर रही है। वो कह रही है उनके साथ वाले चार लोगों को संक्रमण हो चुका है, इस चिंता में वो तीन से चार दिनों से सोई नहीं है, मेंटली डिस्‍टर्ब हो चुके है, पाकिस्‍तान सरकार से रिक्‍वेस्‍ट है कि वो प्‍लीज हमें यहां से जल्‍दी निकाले नहीं तो वायरस उनकी जान ले लेगा।
उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान के स्वास्थ्य मंत्री ने चीन से अपने स्टूडेंट्स को लाने का फैसला करते हुए कहा,

'अगर हम लोगों को वहां से निकालने का गैर-जिम्मेदाराना काम करते हैं तो यह वायरस जंगल में आग की तरह पूरी दुनिया में फैल जाएगा।


और भी पढ़ें :