0

वैश्विक मंदी की संभावित काली छाया और उसके निदान

शनिवार,अक्टूबर 19, 2019
0
1
संविधान के अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू-कश्मीर (Kashmir) का विशेष दर्जा खत्म करने के बाद से लेकर अब तक कश्मीर घाटी में हालात बेहद असामान्य बने हुए हैं। एक ओर जहां 'कश्मीर की आजादी’ चाहने वाले घाटी के ज्यादातर बाशिंदों का कहना है कि अनुच्छेद 370 अब उनके ...
1
2
जिस तरह दीपावली पर हम अपनी अर्थव्यवस्था का लेखा-जोखा करते हैं, उसी तरह दशहरा, शस्त्रपूजा और देश की सामरिक शक्ति का लेखा-जोखा करने का दिन है। इसे संयोग ही कहें कि इस वर्ष दशहरा और वायुसेना दिवस एक ही दिन पड़े। 8 अक्टूबर, दशहरे के दिन पहले राफेल ...
2
3
किले में तब्दील श्रीनगर के सौरा में प्रवेश करने पर एक तिराहे पर कुछ युवकों का समूह मिला। उनसे बातचीत शुरू की। देखते ही देखते वहां 15-20 लोग और जुट गए। उनमें से किसी के सिर पर पट्टा बंधा हुआ था तो किसी के हाथ पर।
3
4
श्रीनगर में डाउनटाउन के बाद दूसरा सबसे तनावपूर्ण इलाका है सौरा। श्रीनगर से नौ किलोमीटर दूर यह अर्ध शहरी इलाका सुरक्षाबलों के लिए भी बेहद चुनौतीपूर्ण बना हुआ है। 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा और अनुच्छेद 35ए खत्म करने के ...
4
4
5
पिछले दो महीने से वैसे तो कश्मीर घाटी में कोई इलाका ऐसा नहीं है, जहां तनाव न पसरा हो या नौजवानों और सुरक्षाबलों के बीच टकराव की आशंका न रहती हो, मगर श्रीनगर के डाउनटाउन इलाके की बात ही कुछ और है। कुछ स्थानीय लोगों का दावा है कि पिछले 30 साल में इस ...
5
6
'न्यू इंडिया’ में तरह-तरह की आशंकाओं, दुश्वारियों, गमों, उदासियों और तनाव से घिरे 'न्यू कश्मीर’ को लेकर केंद्र सरकार और सूबे के राज्यपाल का दावा है, 'वहां स्कूल-कॉलेज फिर से शुरू हो चुके हैं।
6
7
संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना एक बहुत ही पवित्र परिकल्पना और सार्थक विचार के आधार पर हुई थी। संयुक्त राष्ट्र चार्टर 4 प्रमुख उद्देश्यों को निर्धारित करता है- दुनियाभर में शांति और सुरक्षा बनाए रखना। राष्ट्रों के बीच संबंधों को विकसित करना। आर्थिक, ...
7
8
हांगकांग इस समय सुर्खियों में है। वहां प्रदर्शनकारी अपने मौलिक अधिकारों के लिए निरंतर आंदोलन और संघर्ष कर रहे हैं किंतु उन पर प्रशासन की बर्बरता हो रही है। प्रदर्शनकारियों की मांगों को समझने से पहले हांगकांग के इतिहास को थोड़ा देखना पड़ेगा।
8
8
9
भाषा की गुलामी बाकी तमाम गुलामियों में सबसे बड़ी होती है। दुनिया में जो भी देश परतंत्रता से मुक्त हुए हैं, उन्होंने सबसे पहला काम अपने सिर से भाषायी गुलामी के गट्ठर को उतार फेंकने का किया है। यह काम रूस में लेनिन ने, तुर्की में कमाल पाशा ने, ...
9
10
महज साढ़े तीन महीने पहले लोकसभा चुनाव में अपने इतिहास की सबसे शर्मनाक हार का सामना कर चुकी कांग्रेस के सूबाई क्षत्रप अब विभिन्न राज्यों में पार्टी संगठन पर काबिज होने के लिए एक-दूसरे की गर्दन नापने पर आमादा हैं। इस सिलसिले में वे अपने आलाकमान को ...
10
11
अभीत और ऊर्जस्वी मोदीजी की पूंछ में पुलवामा करने वालों ने आग लगाने की गलती क्या कर दी उन्होंने बिना वीसा के ही अपने पवनपुत्रों को पहुंचा दिया बालाकोट और वे आतंकियों की लंका में आग लगाकर लौट आए। पवन पुत्र लौट कर आए तो मोदीजी ने (अंगद) अमित शाह की ...
11
12
अयोध्या में विवादित स्थल पर मालिकाना हक से जुड़े केस में सुप्रीम कोर्ट में रोजाना सुनवाई चल रही है। 2010 में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने विवादित स्थल को सुन्नी वक्फ बोर्ड, रामलला विराजमान और निर्मोही अखाड़ा के बीच 3 बराबर हिस्सों में बांटने का आदेश दिया ...
12
13
अरुण जेटली और पलानिअप्पन चिदंबरम! दोनों लंबे समय तक देश के वित्तमंत्री रहे। अरुण जेटली लंबे समय तक बीमारी से जूझते हुए इस दुनिया से कूच कर गए और चिदंबरम लंबे समय तक कानूनी प्रक्रियाओं से बचते रहने के बाद फिलहाल जमानत और जेल के बीच सीबीआई की रिमांड ...
13
14
पूर्व वित्तमंत्री और पूर्व गृहमंत्री पी. चिदंबरम अगर सीबीआई की हिरासत में हैं तो न्यायालयों के आदेश के कारण। पहले दिल्ली उच्च न्यायालय ने उनकी न केवल अग्रिम जमानत की अर्जी खारिज कर दी,
14
15
इमरान खान और उनकी पूरी सरकार ने भरसक छाती पीटी दुनिया में भारत को बदनाम करने के लिए किंतु किसी ने उसकी नहीं सुनी। पाकिस्तान से गुजर रहे अपने रोड प्रोजेक्ट के कारणों से चीन को उसका साथ देना पड़ा किंतु उतना ही जितना एक बिलखते बच्चे को झुनझुना देकर चुप ...
15
16
तेजी से बढ़ती हुई जनसंख्या सिर्फ भारत के लिए ही नहीं, बल्कि दुनिया के और भी कई देशों के लिए चिंता का सबब बनी हुई है, क्योंकि जिस गति से जनसंख्या बढ़ रही है, उसके लिए जीवन की बुनियादी सुविधाएं और संसाधन जुटाना सरकारों के लिए चुनौती साबित हो रहा है। ...
16
17
पाकिस्तान ने अपने कब्जे वाले जम्मू और कश्मीर को 3 हिस्सों में बांटा जिनमें एक आजाद कश्मीर, दूसरा गिलगिट-बाल्टिस्तान और तीसरा चाइना को गिफ्ट किया गया एरिया, जहां चाइना ने सड़कें और रेल लाइन बना ली हैं। एक चौथा हिस्सा ऐसा है जिसे चीन ने हथिया लिया। आओ ...
17
18
पंद्रह अगस्त को लद्दाख में जनता के जश्न को यदि आपने टीवी पर देखा हो तो आज़ादी के सही मायने समझ में आए होंगे। अभी तक हमारी पीढ़ी ने 1947 में हुए आज़ादी के जश्न को कल्पना में ही जिया था किन्तु इस वर्ष भारत ने उस जश्न को लद्दाख में पुनः साक्षात् होते ...
18
19
#balochistan कुछ संधियों के तहत कुछ रियासतें ऐसी थी जिन पर ब्रिटिश सम्राज्य का सीधा शासन नहीं था। ऐसी रियासतें अपने आंतरिक फैसले लेने के लिए स्वतंत्र थी। इन रियासतों को ये अधिकार था कि वे भारत और पाकिस्तान दोनों में से किसी भी देश के साथ विलय कर ...
19