भविष्यवाणी: तीसरा विश्वयुद्ध और नरेंद्र मोदी, जानिए रहस्य....

अनिरुद्ध जोशी 'शतायु'|
'धर्म बांटेगा लोगों को। काले और सफेद तथा दोनों के बीच लाल और पीले अपने-अपने अधिकारों के लिए भिड़ेंगे। रक्तपात, बीमारियां, अकाल, सूखा, युद्ध और भूख से मानवता बेहाल होगी।' (vi-10)
 
हालांकि ऐसी स्थिति हर समय ही रही है लेकिन यह बात नास्त्रेदमस ने 21वीं सदी के संबंध में कही है। इस वक्त दुनिया में कट्टरता अपने चरम पर है। नास्त्रेदमस की मानें तो इस कट्टरता के कारण ही दुनिया तीसरे युद्ध को झेलेगी।
 
नास्‍त्रेदमस की मानें तो आईएसआईएस की वजह से अब दुनिया में थर्ड वर्ल्‍ड वॉर की शुरुआत होगी, जिसे तीसरा ईश्‍वर विरोधी (एंटी क्राइस्ट) माना जा रहा है। इससे पहले नेपोलियन और हिटलर को नास्त्रेदमस ने ईश्वर विरोधी (एंटी क्राइस्ट) कहा था और कहा था कि तीसरा ईश्वर विरोधी (एंटी क्राइस्ट) जब आएगा तो 27 साल तक तीसरा विश्वयुद्ध चलेगा और दुनिया लगभग समाप्त हो जाएगी।
 
जिस तरह सीधे समूचे यूरोप से युद्ध की भविष्यवाणी नास्त्रेदमस ने की थी, उसी भविष्यवाणी की तरफ कदम बढ़ाते हुए आईएसआईएस प्रमुख अबु बकर अल बगदादी अगले कुछ सालों में हमलों का खाका भी जारी कर चुका है, जिसमें स्पेन जैसे देशों पर आईएसआईएस के कब्जे की बात कही गई थी। इसकी चपेट में भारत के भी आने की संभावनाएं हैं। नास्त्रेदमस ने कहा था कि वो युद्ध ईश्वर विरोधी मेसोपोटामिया (आधुनिक इराक) में होगा और दुनिया पर कहर ढा देगा।
 
नेपोलियन और हिटलर को नास्त्रेदमस ने ईश्वर विरोधी (एंटी क्राइस्ट) कहा था और कहा था कि तीसरा ईश्वर विरोधी(एंटी क्राइस्ट) जब आएगा तो 27 साल के तीसरे विश्वयुद्ध के साथ ही दुनिया समाप्त हो जाएगी। ऐसे में नास्त्रेदमस पर भरोसा करने वालों की मानें तो तीसरा ईश्वर विरोधी आईएसआईएस का मुखिया पूरी दुनिया को समाप्त करने की ओर कदम बढ़ा रहा है।
 
माना जाता है कि नास्त्रेदमस ने 16वीं शताब्दी में ही प्रथम विश्वयुद्ध, द्वितीय विश्वयुद्ध, नेपोलियन के साम्राज्य समेत तमाम भविष्यवाणियां की थीं, जो सच साबित हुई हैं। इसी तरह वर्तमान में पेरिस पर आईएसआईएस की ओर से की गए आतंकी हमले से नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी सच होती लग रही है। जबकि दुनिया की महाशक्तियां वर्तमान में आईएस से युद्ध करने में जुटी हुई है ऐसे में अब सवाल यह उठता है कि क्या तृतीय विश्व युद्ध की भविष्यवाणी भी सच साबित होगी?
 
अगले पन्ने पर जानिए तृतीय विश्‍व युद्ध की सटिक भविष्यवाणी...
 



और भी पढ़ें :