PM मोदी ने वैक्सीनेशन पर की समीक्षा बैठक, दिसंबर तक पूरे देश का टीकाकरण करने का दिया लक्ष्य

Last Updated: शनिवार, 26 जून 2021 (20:55 IST)
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में चल रहे टीकाकरण कार्यक्रम पर शनिवार को की। बैठक में कोरोना टास्क फोर्स और प्रधानमंत्री कार्यालय के अधिकारी शामिल हुए। मोदी ने अधिकारियों से कहा कि वैक्सीन की उपलब्धता सुनिश्चत की जाए।


साथ ही पीएम मोदी ने दिसंबर तक पूरे देश का टीकाकरण करने का लक्ष्य दिया। अधिकारियों ने प्रधानमंत्री को बताया कि हम टीकाकरण के लिए लोगों तक पहुंचने के लिए नवीन तरीकों का पता लगाने, उन्हें लागू करने के वास्ते राज्य सरकारों के संपर्क में हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस सप्ताह कोविड-19 टीकाकरण की बढ़ी हुई गति पर संतोष व्यक्त करते हुए शनिवार को कहा कि इस गति को आगे भी बनाए रखना महत्वपूर्ण है। उन्होंने इस अभियान का विस्तार करने के प्रयासों में गैर सरकारी संगठनों (NGO) और अन्य संगठनों को शामिल करने की आवश्यकता को भी रेखांकित किया।
एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक के बाद सरकार ने एक बयान में कहा कि पिछले छह दिनों में 3.77 करोड़ खुराक दी गई। इसमें कहा गया है कि देश के 128 जिलों में 45 वर्ष से अधिक की आबादी के 50 प्रतिशत से अधिक लोगों का टीकाकरण किया गया है और 16 जिलों में इस आयु वर्ग के 90 प्रतिशत से अधिक लोगों का टीकाकरण किया गया है।

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने कहा कि 6 दिनों में 3.77 करोड़ खुराक दी गई जो मलेशिया, सऊदी अरब और कनाडा जैसे देशों की पूरी आबादी से अधिक है।
मोदी ने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के लिए राज्यों के साथ काम करने का भी निर्देश दिया कि जांच की गति कम न हो क्योंकि यह संक्रमण का पता लगाने और इसे रोकने के लिए महत्त्वपूर्ण हथियार है।

पीएमओ ने कहा कि मोदी ने टीकाकरण अभियान में गैर सरकारी संगठनों और अन्य संगठनों को शामिल करने की आवश्यकता को रेखांकित किया। अधिकारियों ने प्रधानमंत्री से कहा कि वे टीकाकरण के लिए लोगों तक पहुंचने के लिए नवीन तरीकों का पता लगाने और उन्हें लागू करने के लिए राज्य सरकारों के संपर्क में हैं।
पीएमओ ने बताया कि मोदी को वैश्विक स्तर पर कोविन मंच में बढ़ती दिलचस्पी के बारे में भी बताया गया। पीएमओ ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि कोविन मंच के रूप में भारत की समृद्ध तकनीकी विशेषज्ञता के साथ सभी देशों की मदद करने का प्रयास किया जाना चाहिए।

अधिकारियों ने देश में टीकाकरण की प्रगति पर मोदी को एक विस्तृत प्रस्तुति दी और उन्हें आयु-वार टीकाकरण कवरेज के बारे में जानकारी दी गई।



और भी पढ़ें :