सर्व सिद्धिदायक हनुमान मंत्र से जीवन बने सुखी और संपूर्ण

श्री रामानुज|
हमें फॉलो करें
“ॐ नमो हनुमते सर्वग्रहान् भूत भविष्यत्-वर्तमानान् दूरस्थ समीपस्यान् छिंधि छिंधि भिंधि भिंधि 
सर्वकाल दुष्ट बुद्धानुच्चाट्योच्चाट्य परबलान् क्षोभय क्षोभय मम सर्वकार्याणि साधय साधय। 
ॐ नमो हनुमते ॐ ह्रां ह्रीं ह्रूं फट् । देहि ॐ शिव सिद्धि ॐ । ह्रां ॐ ह्रीं ॐ ह्रूं ॐ ह्रः स्वाहा।” 
 
 
ग्यारहवें दिन पाठ के समापन पर दशमांश हवन करें, ब्राह्मण या उचित याचक को धन-धान्य दान करें और निर्मल ह्रदय से का नाम लेने से सभी प्रकार के सुख और संपूर्णता प्राप्त होती है। 
>
>



और भी पढ़ें :