मंगलवार, 7 फ़रवरी 2023
  1. धर्म-संसार
  2. ज्योतिष
  3. ज्योतिष आलेख
  4. Shighra vivah ke upay
Written By
पुनः संशोधित शुक्रवार, 4 नवंबर 2022 (11:48 IST)

एकादशी पर घर के इस कोने में बना दें हल्दी से स्वस्तिक, विवाह के बनेंगे योग, दूर होंगे रोग

Vivah ke upay: 4 नवंबर 2022 शुक्रवार के दिन देव उठनी एकादशी का व्रत रखा जा रहा है। इस दिन देव उठ जाते हैं और सभी तरह के मांगलिक कार्य प्रारंभ हो जाते हैं। खासकर विवाह संबंधी सभी कार्य प्रारंग होते हैं। यदि आपके विवाह के योग नहीं जम पा रहे हैं तो देव उठनी ग्यारस पर आप मात्र एक ही उपाय करेगे तो शादी में आ रही अड़चने दूर होगी।
 
1. व्रत रखने से बनते हैं विवाह के योग : देव उठनी एकादशी के दिन शालिग्रामजी का तुलसीजी के साथ विवाह कराया जाता है। इसके बाद से वैवाहिक कार्य प्रारंभ हो जाते हैं। इस दिन विधिवत व्रत रखने से विवाह में आ रही रुकावटें दूर होकर शादी के योग बनते हैं। 
 
2. शीघ्र विवाह के उपाय : आप चाहें तो इस दिन पीले या लाल वस्त्र पहनकर शालिग्रामजी को पंचामृत से स्नान कराएं और उन्हें चंदन लगाएं। इसके बाद उन्हें पीले आसन पर विराजमान करें और उन्हें अपने हाथों से तुलसी अर्पित करें और उनसे अपने विवाह की मनोकामना बोलें। वे प्रसन्न होकर शीघ्र विवाह के योग बनाएंगे।
 
3. हल्दी से स्वस्तिक बनाएं स्वास्तिक : एकादशी के दिन घर के उत्तर या ईशान दिशा की दीवार पर हल्दी से स्वस्तिक बनाएं और उसर थोड़े से चावल रखें। वैवाहिक जीवन की कठिनाइयों को दूर करने के लिए पूजा करते समय हल्दी से स्वस्तिक बनाना चाहिए। सभी प्रकार की सामान्य पूजा या हवन में कुमकुम या रोली से स्वस्तिक बनाया जाता है।
ये भी पढ़ें
देव उठनी एकादशी से शुरू होंगे शादी के मुहूर्त, जानिए कब-कब बजेगी शहनाई