9 ग्रहों की 9 सुगंध से पाएं चमत्कारिक लाभ

fragrance for planets
अनिरुद्ध जोशी| Last Updated: मंगलवार, 21 अप्रैल 2020 (15:45 IST)
का हमारे जीवन और वातावरण में बहुत ही महत्व होता है। सुगंध से मानसिक शांति मिलती है। कई रोगों में सुगंध से लाभ प्राप्त किया जा सकता है। इसी तरह किसी भी के बुरे प्रभाव को सुगंध के द्वारा अच्छे प्रभाव में बदला जा सकता है। तो जानिए कि कैसे सुगंध से ग्रहों की शांति की जा सकती है।

1. सूर्य ग्रह : यदि आपकी कुंडली में सूर्य ग्रह बुरे प्रभाव दे रहा है तो आप केसर या गुलाब की सुगंध का उपयोग करें। घर के लिए होम प्रेशनर लाएं और शरीर के लिए इस सुगंध का कोई उपयोग करें।

2. चंद्र ग्रह : चंद्रमा मन का कारण है अत: इसके लिए चमेली और रातरानी के इत्र का उपयोग कर सकते हैं।

3. मंगल ग्रह : मंगल ग्रह की परेशान से मुक्त होने के लिए लाल चंदन का इत्र, तेल अथवा सुगंध का उपयोग कर सकते हैं।

4. बुध ग्रह : बुध ग्रह की शांति के लिए चंपा का इत्र तथा तेल का प्रयोग बुध की दृष्टि से उत्तम है।

5. गुरु ग्रह : केसर और केवड़े के इत्र के उपयोग के अलावा पीले फूलों की सुगंध से गुरु की कृपा पाई जा सकती है।

6. शुक्र ग्रह : शुक्र को सुधारने के लिए सफेद फूल, चंदन और कपूर की सुगंध लाभकारी होती है। चंपा, चमेली और गुलाब की तीक्ष्ण खुशबू से खराब हो जाता है।

7. शनि ग्रह : शनि के खराब प्रभाव को अच्छे प्रभाव में बदलने के लिए कस्तुरी, लोबान तथा सौंफ की सुगंध का उपयोग कर सकते हैं।

8. राहु और 9. केतु छाया ग्रह : काली गाय का घी व कस्तुरी के इत्र का उपयोग कर राहु ग्रह के दुष्प्रभाव से बचा जा सकता है। यही यह कहीं से उपलब्ध न हो तो घर के शौचालय को साफ सुधरा रख कर घर में प्रतिदिन कर्पूर जलाएं। गुड़ और घी को मिलाकर उसे कंडे पर जलाएं।



और भी पढ़ें :