जिन्ना की शैतानी छवि पेश करना गलत-जसवंत

लंदन | भाषा| पुनः संशोधित गुरुवार, 14 जनवरी 2010 (12:40 IST)
FILE
अपनी किताब में जिन्ना के तारीफ के पुल बाँधने के कारण भाजपा से पिछले वर्ष निष्कासित किए गए ने कहा कि के संस्थापक की छवि शैतान के रूप में पेश करना है।

हाउस ऑफ कामंस में जिन्ना पर लिखी अपनी किताब के अंतरराष्ट्रीय संस्करण को जारी करते हुए सिंह ने कहा कि जिन्ना को शैतान के रूप में पेश कर हमने और गाँधी को दुष्ट बताकर पाकिस्तान ने गलत किया। हम इतिहास का आविष्कार नहीं सकते।

उन्होंने कहा कि जिन्ना पक्के इरादों के व्यक्ति थे और हिंदू मुस्लिम एकता के दूत से कायदे आजम के रूप में उनका अवतार बहुत रोचक है।
जसवंत ने कहा कि इससे पहले की वह अपने सपनों के पाकिस्तान को मूर्त रूप दे पाते वह दुनिया से अलविदा हो गए। सिंह ने कहा कि यह किताब उनका शिशु है।

उन्होंने कहा कि पाँच वर्षों में उन्होंने इसे पाल पोस कर बड़ा किया है लेकिन प्रकाशन के साढ़े तीन महीनों के भीतर अबतक इसका 23वां संस्करण निकल चुका है। (भाषा)

 

और भी पढ़ें :