घर में सफेद अपराजिता लगाने से क्या होगा?

benefits of Aparajita
पुनः संशोधित रविवार, 11 सितम्बर 2022 (17:50 IST)
हमें फॉलो करें
flower in hindi : पेड़ और पौधे हमारे जीवन को बहुत प्रभावित करते हैं। ज्योतिष के अनुसार यह हमारे जीवन में सेहत और सकारात्मकता लाकर धन और समृद्धि के योग भी बनाते हैं। ऐसे ही कुछ पौधे की संक्षिप्त जानकारी जिनसे घर में खुशियां आती है और मनोकामना भी पूर्ण होती है। ऐसा ही एक पौधा है अपराजिता जिसके दो रंगों के फूल पाए जाते हैं। एक सफेद और दूसरा नीले। जानते हैं कि सफेद अपराजिता लगाने से क्या होगा।

- श्वेत अपराजिता या अपराजिता को संस्कृत में इसे आस्फोता, विष्णुकांता, विष्णुप्रिया, गिरीकर्णी, अश्वखुरा कहते हैं।

- यह पौधा धनलक्ष्मी को आकर्षित करने में सक्षम है। श्वेत नहीं मिले तो नीली अपराजिता रखें।

- श्वेत और नीले दोनों प्रकार की अपराजिता औषधीय गुणों से भरपुर है।

- श्वेत अपराजिता का पौधा घर में किसी भी प्रकार का संकट नहीं आने देता है।
- इसे घर में लगाने से घर में सुख और शांति के साथ ही धन समृद्धि आती है।

- श्वेत अपराजिता चरपरी (तीखी), बुद्धि बढ़ाने वाली, कंठ (गले) को शुद्ध करने वाली, आंखों के लिए उपयोगी होती है।


- श्वेत अपराजिता बुद्धि या दिमाग और स्मरण शक्ति को बढ़ाने वाली है

- सफेद दाग (कोढ़), मूत्रदोष (पेशाब की बीमारी), आंवयुक्त दस्त, सूजन तथा जहर को दूर करने वाली है।
दिशा : वास्तु शास्त्र के अनुसार अपराजिता के पौधा को घर की पूर्व, उत्तर या ईशान दिशा में लगाना चाहिए। उत्तर-पूर्व के बीच की दिशा को ईशान कोण कहते हैं। यह दिशा देवी देवताओं और भगवान शिव की दिशा मानी गई है।



और भी पढ़ें :