मकर संक्रांति के उपरांत शुभ मुहूर्त में श्रीरामलला की गर्भगृह में होगी स्थापना

Photo - Twitter
Author संदीप श्रीवास्तव| Last Updated: मंगलवार, 13 सितम्बर 2022 (20:06 IST)
हमें फॉलो करें
अयोध्या। श्रीराम भक्तों के लिए यह अच्छी खबर है कि मकर संक्रांति के बाद वे अपने आराध्य प्रभु श्रीरामलला का उनके में दर्शन कर सकेंगे। जी हां, यह अहम जानकारी श्रीराम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने दी। इस दिन श्रीरामलला के विराजमान होने के बाद उसी दिन प्राण-प्रतिष्ठा का अनुष्ठान भी हो जाएगा।

उन्होंने बताया कि 14 जनवरी 2024 या उसके आसपास शुभ नक्षत्र में जन्मभूमि के गर्भगृह में भगवान श्रीराम स्थापित होंगे। रामभक्तों के लिए वर्ष 2024 सुखद वर्ष होगा। इस दिन श्रीरामलला के विराजमान होने के बाद उसी दिन प्राण-प्रतिष्ठा का अनुष्ठान भी हो जाएगा।

इस भव्य और दिव्य मंदिर का प्रथम तल दिसंबर 2023 तक हो तैयार हो जाएगा और उस समय सूर्य होंगे दक्षिणायन। 14 जनवरी के आसपास शुरू होता है उत्तरायण। 14 जनवरी 2024 या उसके आसपास श्रीरामलला अपने दिव्य और भव्य मंदिर में स्थापित होंगे। इस संदर्भ में राम मंदिर निर्माण समिति की 2 दिवसीय बैठक सर्किट हाउस में संपन्न हुई थी।



और भी पढ़ें :