नवंबर के पहले 15 दिन में 5 कंपनियों के IPO, 27,000 करोड़ जुटने की उम्मीद

पुनः संशोधित रविवार, 31 अक्टूबर 2021 (13:39 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। करीब एक महीने के अंतराल के बाद प्राथमिक बाजार की रौनक फिर लौटने जा रही है। नवंबर के पहले पखवाड़े में पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस, पॉलिसीबाजार की मूल कंपनी पीबी फिनटेक, केएफसी और पिज्जा हट का परिचालन करने वाली सफायर फूड्स इंडिया, एसजेएस एंटरप्राइज और सिगाची इंडस्ट्रीज के आ रहे हैं। इनसे 27,000 करोड़ रुपए से अधिक जुटने की उम्मीद है।

अभी सौंदर्य और वेलनेस उत्पादों के ऑनलाइन मार्केटप्लेस नायका का परिचालन करने वाली एफएसएन ई-कॉमर्स वेंचर्स लि. और फिनो पेमेंट्स बैंक के आईपीओ खुले हुए हैं।

नायका का आईपीओ एक नवंबर और फिनो पेमेंट्स बैंक का आईपीओ दो नंवबर को बंद होगा। नायका को आईपीओ से 5,352 करोड़ रुपए और फिनो पेमेंट्स बैंक को 1,200 करोड़ रुपये जुटने की उम्मीद है। कुल मिलाकर इन 7 कंपनियों के आईपीओ से 33,500 करोड़ रुपये जुटने की उम्मीद है। इनसे पहले 29 सितंबर को आदित्य बिड़ला एएमसी का 2,778 करोड़ रुपए का आईपीओ आया था।
लर्नऐप.कॉम के संस्थापक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) प्रतीक सिंह ने कहा कि तेजड़िया बाजार में आईपीओ लाने वाली कंपनियों को अपने कारोबार पर बेहतर प्रीमियम और मूल्यांकन मिलने की उम्मीद होती है। उन्होंने कहा कि विशेषरूप से प्रौद्योगिकी क्षेत्र की कंपनियों को बेहतर प्रीमियम मिल रहा है। इस साल 2021 में अभी तक 41 कंपनियों ने आईपीओ से 66,915 करोड़ रुपए जुटाए हैं।
इनके अलावा पावरग्रिड कॉरपोरेशन द्वारा प्रायोजित पावरग्रिड इनविट ने आईपीओ से 7,735 करोड़ रुपए और ब्रुकफील्ड इंडिया रियल एस्टेट ट्रस्ट ने आईपीओ से 3,800 करोड़ रुपए जुटाए हैं। (भाषा)



और भी पढ़ें :