शेयर बाजार दबाव में, सेंसेक्स सपाट, निफ्टी 8 अंक फिसला

Last Updated: सोमवार, 2 दिसंबर 2019 (17:57 IST)
मुंबई। यूरोपीय और एशियाई बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों और घरेलू स्तर पर टेलीकॉम कंपनियों द्वारा टेरिफ में की गई बढ़ोतरी से मिले समर्थन के बावजूद सोमवार को शेयर बाजार पर दबाव दिखा, जहां मामूली 8 अंक की बढ़त बनाने सफल रहा जबकि निफ्टी 8 अंक उतर गया।

बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 8.36 अंक बढ़कर 40802.17 अंक पर रहा जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 7.85 अंक फिसलकर 12048.20 अंक पर रहा। मझौली और बड़ी कंपनियों पर भी बिकवाली का दबाव दिखा जिससे बीएसई का मिडकैप 0.77 प्रतिशत उतरकर 1496.21 अंक पर और स्मॉल कैप 0.39 प्रतिशत लुढ़ककर 13508.22 अंक पर रहा।

टेलीकॉम कंपनियों भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया के साथ रिलायंस जियो द्वारा टेरिफ में करीब 42 फीसदी तक की बढोतरी किए जाने के कारण लिवाली के बल पर बीएसई का सेंसेक्स 279 अंकों की तेजी लेकर 41072.94 अंक पर खुला।
शुरुआती सत्र में ही यह लिवाली के बल पर 41093.99 अंक के उच्चतम स्तर पर गया लेकिन बिकवाली शुरू होने से यह 40707.63 अंक के निचले स्तर तक फिसला। अंत में यह पिछले दिवस के 40793.81 अंक की तुलना में 0.022 प्रतिशत अर्थात 8.36 अंक बढ़कर 40802.17 अंक पर रहा।

इसी तरह से एनएसई का निफ्टी 91 अंकों की बढ़त लेकर 12137.05 अंक पर खुला और लिवाली के बल पर यह 12137.15 अंक के उच्चतम स्तर तक गया। इसके बाद शुरू हुई बिकवाली के दबाव में यह 12023.70 अंक के निचले स्तर तक फिसल गया। अंत में यह पिछले दिवस के 12056.05 अंक की तुलना में 0.07 प्रतिशत अर्थात 7.85 अंक गिरकर 12048.20 अंक पर रहा।
बीएसई में शामिल समूहों में से अधिकांश में रहे। ऑटो समूह में सबसे अधिक 0.94 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई। बढ़त में रहने वालों में टेलीकॉम 2.64 प्रतिशत, एनर्जी 1.28 प्रतिशत, धातु 0.31 प्रतिशत और बेसिक मटेरियल्स 0.27 प्रतिशत शामिल है।

बीएसई में कुल 2742 कंपनियों में कारोबार हुआ जिसमें से 1501 गिरावट में और 1051 बढ़त में रहा जबकि 190 में कोई बदलाव नहीं हुआ। (वार्ता)



और भी पढ़ें :