गणतंत्र दिवस पर पढ़ें जन गण मन (हिन्दी अर्थ सहित)

Jan Gan Man
आधिनायक जय हे भारतभाग्यविधाता!
जन गण मन के उस अधिनायक की जय हो, जो भारत के भाग्यविधाता हैं!


पंजाब सिन्धु गुजरात मराठा द्राविड़ उत्कल बंग
विन्ध्य हिमाचल यमुना गंगा उच्छलजलधितरंग
उनका नाम सुनते ही पंजाब सिन्ध गुजरात और मराठा, द्राविड़ उत्कल व बंगाल
एवं विन्ध्या हिमाचल व यमुना और गंगा पर बसे लोगों के हृदयों में मचलती मनमोहक तरंगें भर उठती हैं


तव शुभ नामे जागे, तव शुभ आशीष मागें
गाहे तव जयगाथा
सब तेरे पवित्र नाम पर जाग उठते हैं, सब तेरे पवित्र आशीर्वाद पाने की अभिलाषा रखते हैं
और सब तेरे ही जयगाथाओं का गान करते हैं


जनगणमंगलदायक जय हे भारतभाग्यविधाता!
जय हे, जय हे, जय हे, जय जय जय जय हे।।
जनगण के मंगल दायक की जय हो, हे भारत के भाग्यविधाता



और भी पढ़ें :