लोमहर्षक घटना में अंधविश्वास के चलते भतीजी का गला काटा

Last Updated: मंगलवार, 2 अगस्त 2022 (21:30 IST)
हमें फॉलो करें
डूंगरपुर। के जिले के चितरी थानांतर्गत झिंझवा फला गांव में रविवार रात दशामाता व्रत पर्व के दौरान एक 14 साल की किशोरी ने तलवार लेकर जमकर उत्पात मचाया और वहां सो रही अपनी 7 साल की भतीजी पर ताबड़तोड़ वार करते हुए उसकी गर्दन धड़ से अलग कर दी।

थानाधिकारी गोविन्द सिंह के अनुसार चीतरी झिंझवा फला में हरियाली अमावस्या के दिन से दशामाता की प्रतिमा स्थापना कर रोजाना सुबह शाम पूजा-अर्चना चल रही और रविवार को रोज की तरह दशामाता की पूजा आरती का कार्यक्रम रात 8 बजे से शुरू हुआ और देर रात तक चलता रहा।

इसी दौरान 15 साल की किशोरी हाथों में तलवार लेकर माता का भाव आना बताते हुए लोगों से कहने लगी कि मैं सबको मार डालूंगी। यह कहते हुए तलवार लेकर घर आंगन में दौड़ने लगी और उसने भाई और पिता पर भी वार किया। इस दौरान उसी घर में सुरेश की 7 साल की बेटी घर के अंदर सोई हुई थी। किशोरी उसके पास गई और उसे घसीटते हुए मकान के दूसरे हिस्से में ले जाकर तलवार से ताबड़तोड़ वार कर गर्दन धड़ से अलग कर दी। इधर पुलिस ने आरोपी किशोरी को डिटेन कर लिया है। बांसवाड़ा से एसएफएल की टीम को बुलाया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।



और भी पढ़ें :