गुरुवार, 9 फ़रवरी 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. प्रादेशिक
  4. Coronavirus Case in Maharashtra
Written By
पुनः संशोधित शुक्रवार, 30 अप्रैल 2021 (23:18 IST)

महाराष्ट्र में बढ़ सकती है और सख्ती, 24 घंटे में करीब 63000 केस

मुंबई। महाराष्ट्र सरकार ने अगर लॉकडाउन जैसी पाबंदियां नहीं लगाई होतीं तो राज्य में कोरोना वयरस के इलाजरत रोगियों की संख्या 9 से 10 लाख तक पहुंच जाती। यह बात शुक्रवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कही।
 
उन्होंने कहा कि पूरी तरह लॉकडाउन की जरूरत हो सकती है, लेकिन मुझे नहीं लगता कि हम उस चरण तक पहुंचेंगे। महाराष्ट्र स्थापना दिवस की पूर्व संध्या पर टेलीविजन पर दिए संबोधन में उन्होंने कहा कि नवीनतम पाबंदियों से कोरोना वायरस के मामलों पर रोक लगाने में मदद मिली और उपचाराधीन मरीजों की संख्या करीब 6.5 लाख बनी हुई है।
 
उन्होंने कहा कि हम कोरोना वायरस की इस लहर से उसी तरह लड़ेंगे जैसे पिछले वर्ष लड़े थे। ठाकरे ने कहा कि राज्य सरकार 18 से 44 वर्ष तक के लोगों के टीकाकरण के लिए जरूरी 12 करोड़ टीके की खुराक खरीदने के लिए एक बार में चेक से भुगतान करेगी।
 
उन्होंने कहा कि इस श्रेणी में लोगों का टीकाकरण शनिवार से खुराक की उपलब्धता के मुताबिक होगा और राज्य को शुक्रवार को तीन लाख खुराकें मिली हैं।
 
62 से ज्यादा नए मामले : महाराष्ट्र में शुक्रवार को कोविड-19 के 62,919 मामले सामने आए और 828 लोगों की संक्रमण से मौत हो गई। यह जानकारी राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने दी। हालांकि संक्रमण के नए मामले बृहस्पतिवार की तुलना में कम रहे, लेकिन मृतकों की संख्या बढ़ गई। राज्य में बृहस्पतिवार को संक्रमण के जहां 66,159 मामले आए थे, वहीं मृतकों की संख्या 771 रही थी।
 
इसी के साथ शुक्रवार को कुल संक्रमितों की संख्या 46,02,472 हो गई जबकि मृतकों की कुल संख्या 68,813 रही। मुंबई में 3888 नए मामले सामने आए और 89 लोगों की मौत हो गई जिससे महानगर में संक्रमितों की कुल संख्या 6,48,471 हो गई है, जबकि मृतकों की संख्या 13,125 हो चुकी है। राज्य में शुक्रवार को 69,710 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दी गई, जिससे राज्य में अभी तक 38,68,976 लोग बीमारी से ठीक हो चुके हैं।
 
ये भी पढ़ें
रिलायंस इंडस्ट्रीज का शुद्ध लाभ मार्च तिमाही में दोगुना से अधिक बढ़कर 13227 करोड़ रुपए रहा